नेटवर्क विहीन बस्तर में यूनिसेफ सीख कार्यक्रम के वीडियो से बच्चों की पढ़ाई

जगदलपुर : कोरोना लॉकडाउन में स्कूल बंद होने से बच्चों की पढ़ाई न रुके इसके लिए राज्य सरकार ने ऑनलाइन क्लास शुरू की है। लेकिन बस्तर के जंगलों में नेटवर्क नहीं होने के कारण यह सफल नहीं हो पा रही है।

ऐसे में यूनिसेफ यहां के लिए सीख कार्यक्रम लेकर आया है। इसमें स्कूली पाठ्यक्रमों पर तैयार वीडियो के जरिए बच्चों को खेल-खेल में रोचक तरीके से पढ़ाया जा रहा है। कांकेर छोड़कर बस्तर संभाग के सभी छह जिलों में यह कार्यक्रम चल रहा है। इसमें बच्चों के साथ शिक्षकों और अभिभावकों को भी जोड़ा गया है।

सुकमा जिले के छिंदगढ़ ब्लॉक में 285 स्कूलों में सीख कार्यक्रम चल रहा है। ब्लॉक को 27 क्लस्टर में बांटकर 30-35 बच्चों के समूहों को ट्रेनिंग दी जा रही है। 5881 बच्चे इस कार्यक्रम से जुड़े हैं। सुकमा जिले में 1026 स्कूल हैं पर ऑनलाइन पढ़ाई सिर्फ 343 स्कूलों में ही चल रही है। बीजापुर जिले में पांच सौ वालिंटियर तैनात किए गए हैं। नक्सल इलाकों में 60 फीसद गांव इंटरनेट विहीन होने के कारण बाधा आ रही है।

सुकमा कलेक्टर चंदन कुमार ने बताया कि बच्चों के साथ समूह की सहभागिता पर केंद्रित कार्यक्रम छिंदगढ़ ब्लॉक में चल रहा है। इसके बेहतर परिणाम नजर आ रहे हैं। आगामी दिनों में इस कार्यक्रम का विस्तार अन्य ब्लॉकों में भी करने की तैयारी है। सीख कार्यक्रम से बच्चे पढ़ाई के साथ अन्य गतिविधियों से भी जुड़े हैं। इससे बच्चों का शाला त्याग भी थमेगा।

corona Update और National News के साथ Chhattisgarh और Madhyapradesh से जुड़ी खबरें पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *