छत्तीसगढ़रायगढ़

कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने दिया टेबलेट :- अब ललित की पढ़ाई होगी आसान.

रायगढ़ । विकासखंड खरसिया के ग्राम-तुरेकेला निवासी दिव्यांग ललित साहू अपनी आगे की पढ़ाई में सहायता हेतु टेबलेट की मांग को लेकर आज जनचौपाल में पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि वे शत-प्रतिशत दृष्टि बाधित है। कलेक्टर सिन्हा ने ललित को मौके पर जनचौपाल में टेबलेट प्रदान किया और कहा कि अच्छे से पढ़ाई करो। टेबलेट पाकर ललित ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि टेबलेट के माध्यम से वे अच्छे से पढ़ाई कर पायेंगे। उन्होंने कलेक्टर को धन्यवाद ज्ञापित किया।

पुराना सदर बाजार निवासी धर्मेंद्र अग्रवाल अपनी बेटी की अंक सूची एवं टीसी के संबंध में आवेदन लेकर पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी अतरमुड़ा के निजी स्कूल से 8वीं उत्तीर्ण हो चुकी हैं। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वे फीस नहीं जमा नहीं कर पाए। वही प्रमाण पत्र के अभाव में अब उनकी पुत्री आगे की पढ़ाई नहीं कर पा रही हैं। उन्होंने अंक सूची एवं टीसी प्रदान करवाने हेतु निवेदन किया।

इसी प्रकार उर्दना निवासी शशिकांत मिंज अपने दोनों बेटों के टीसी के संबंध में आवेदन लेकर पहुंचे। उन्होंने बताया कि उनके दोनों बेटे निजी स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे, अब वे उन्हें गांव के शासकीय स्कूल में भर्ती करवाना चाहते है। लेकिन टीसी के अभाव में एडमिशन में दिक्कत हो रही हैं। उन्होंने टीसी प्रदान करवाने के लिए निवेदन किया। कलेक्टर सिन्हा ने डीईओ को आवेदन के निराकरण के निर्देश देते हुए कहा कि वर्तमान में एडमिशन प्रक्रिया चल रही हैं। अत: टीसी, अंक सूची से संबंधित सभी कार्यों को प्राथमिकता से निराकरण करें।

इसी प्रकार जनचौपाल में पेंशन, राशन, राजस्व, चिकित्सा, पेयजल, भू-अर्जन, विद्युत, शिक्षा, वनअधिकार पत्र, पेंशन, श्रम, राशन आदि से संबंधित कुल 112 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए थे। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने जिला स्तरीय अधिकारियों को प्राप्त आवेदनों का प्राथमिकता से निराकरण के निर्देश दिए। इसी क्रम में विकास खंड पुसौर के ग्राम छपोरा निवासी घसिया राम ट्रायसाइकल की मांग लेकर जन चौपाल में पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि शारीरिक रूप से दिव्यांग होने के कारण चलने-फिरने में असमर्थ हैं। उन्होंने कलेक्टर सिन्हा से ट्रायसाइकिल की मांग की। कलेक्टर सिन्हा ने समाज कल्याण को आवेदन के निराकरण के निर्देश दिए।

इसी प्रकार रामगुड़ी पारा निवासी कृष्ण गोपाल केशरवानी अपने पुत्र के ईलाज के संबंध में आवेदन लेकर आए थे। उन्होंने बताया कि उनका पुत्र काफी दिनों से बीमार हैं। स्थानीय स्तर पर प्राइवेट अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हैं एवं डॉक्टरों ने उनके पुत्र का इलाज अन्य अस्पताल में करवाने की सलाह दी हैं। उन्होंने अपने पुत्र के इलाज के लिए आर्थिक मदद का निवेदन किया। आवेदन पर कलेक्टर सिन्हा ने सीएमएचओ को इलाज के संबंध में निर्देशित किया।

तहसील पुसौर निवासी भ्रमर झारा अति वृष्टि फलस्वरूप मकान ढहने से मुआवजा के संबंध में आवेदन लेकर आए थे। उन्होंने बताया कि वे अत्यंत गरीब हैं एवं मकान ढहने से रहने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। उन्होंने आर्थिक सहायता की मांग की। आवेदन पर कलेक्टर सिन्हा ने तहसीलदार पुसौर को नियमानुसार जांच कर आवेदन का निराकरण के निर्देश दिए। इसी प्रकार तहसील लैलूंगा के ग्राम भेड़ीमुड़ा निवासी हेमचंद सिदार लोन के संबंध में आवेदन लेकर जन चौपाल पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि वे काष्ठ कला से संबंधित कार्य जानते हैं एवं काष्ठ कला का व्यवसाय प्रारंभ कर जीवन-यापन करना चाहते हैं। उन्होंने कलेक्टर सिन्हा से लोन प्रदान करने का आग्रह किया। कलेक्टर सिन्हा ने लीड बैंक मैनेजर को आवेदन के निराकरण के निर्देश दिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button