तीन दिन से छत्तीसगढ़ में कोरोना पर लगा ब्रेक, लेकिन इसके पीछे वजह कुछ और है ?

रायपुर, राजधानी में कोरोना मरीजों की संख्या में कुछ कमी जरूर आ रही है. लेकिन इसके पीछे की वजह कुछ और समझ आ रही है. दरअसल रविवार की देर रात और सोमवार की सुबह तक प्रदेश में कोरोना के 212 नए मरीज मिले हैं. पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। उन्हें एम्स में भर्ती किया गया है ।

वहीं राजभवन में 7 कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद इसे सात दिन के लिए बंद कर दिया गया है। इधर, कोरोना से पिछले 24 घंटे में रायपुर में दो व राजनांदगांव में एक व्यक्ति की जान गई है। इसे मिलाकर रायपुर में 31 व प्रदेश में 62 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

जो नए मरीज मिले हैं उनमें रायपुर से 69, दुर्ग से 32, जांजगीर-चांपा से 27, जशपुर से 25, रायगढ़ से 15, कोरबा से 4, महासमुंद से 3, सूरजपुर व धमतरी से 2-2, राजनांदगांव-कांकेर से एक-एक मरीज मिले हैं । अब प्रदेश में मरीजों की संख्या 9822 पहुंच गई है। और आज ये आंकड़ा दस हजार पार कर सकता है ।

वहीं अगर एक्टिव केस की बात करें तो फिलहाल प्रदेश में 2503 हैं। वहीं 7256 लोग इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं। सोमवार को 265 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब तक 3.34 लाख सैंपलों की जांच की जा चुकी है ।

तीन दिन से जांच कम तो मरीज भी कम मिले

रक्षाबंधन के मौके पर कई लैब टेक्नीशियन छुट्टी पर हैं लिहाजा, तीन दिन से कम जांच हो रही है. इससे लैब में कम सैंपलों की जांच हो रही है । यही कारण है कि पिछले तीन दिनों से रायपुर में मरीजों का आंकड़ा 100 से कम जा रहा है। माना जा रहा है कि छुट्टी से लौटने के बाद ज्यादा सैंपलों की जांच होगी. मरीजों की संख्या भी बढेगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *