Sonia Gandhi ने 7 प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से की चर्चा, मोदी सरकार का बढे़गा सिरदर्द ?

नईदिल्ली, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi )ने कल यानि 26 अगस्त को कांग्रेस सहित विपक्षी दलों के 7 मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की. इस दौरान सोनिया गांधी ने सभी से चर्चा करते हुए आगामी लोकसभा सत्र को लेकर मोदी सरकार को कैसे घेरना है इस पर रणनीति बनाने पर जोर दिया.

सभी मुख्यमंत्रियों ने इस मंच पर अपने-अपने विचार रखे, इसमें खास बात यह रही कि एक वक्त पर सोनिया गांधी(Sonia Gandhi ) पर आरोपों की बौछार करने के बाद पार्टी छोड़ने वाली तृमूल कांग्रेस की नेता ममता बेनर्जी और कभी भाजपा के कट्टर सहयोगी रही शिवसेना के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) भी शामिल हुए.

वहीं चर्चा में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, अशोक गहलोत, अमरिंदर सिंह, भूपेश बघेल और वी नारायण सामी शामल हुए. वहीं इस चर्चा में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी हिस्सा लिया.

प्रदेशों का हाल बदहाल

इस दौरान करीब-करीब सभी मुख्यमंत्रियों ने कोरोना वायरस की वजह से राज्य की हालत खराब होने पर चिंता जताई साथ ही उन्होने केंद्र पर भी आरोप लगाया कि केंद्र विपक्षी दलों के मुख्यमंत्रियों के साथ भेदभाव कर रही है. और जो राशि केंद्र से राज्य सरकारों को मिलनी चाहिए वो नहीं मिल पा रही है.

डरना है या लड़ना है ? – उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray)

चर्चा में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा कि हमें फैसला करना चाहिए कि हमें केंद्र सरकार से डरना है या लड़ना है. कांग्रेस के साथ मंच शेयर करने से अक्सर परहेज करने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तेवर भी नरम दिखाई दिए. ममता बनर्जी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बहाने मोदी सरकार पर निशाना साधा.

बता दें कि संसद का मॉनसून सत्र 14 सितंबर से शुरू होने की संभावना है. कोरोना महामारी के बीच होने जा रहा यह सत्र काफी हंगामेदार होने की संभावना है. कोरोना संक्रमण, देश की आर्थिक स्थिति, लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार को विपक्ष के विरोध का सामना करना पड़ सकता है.

corona Update और National News के साथ Chhattisgarh और Madhyapradesh से जुड़ी खबरें पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *