Treatment of corona: चमत्कारी दवा से कोरोना का इलाज करने वाले गिरफ्तार, मामला भारत का नहीं, बल्कि…

नईदिल्ली, (Treatment of corona) पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस से परेशान है, लोग जल्द से जल्द मास्क से मुक्ति पाना चाहते हैं. इस बीच कुछ लोग लोगों से भरोसे भी इस दौरान खेल रहे हैं, और ये खेल भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका में भी खूब फल फूल रहा है.

दरअसल फ्लोरिडा के संघीय अधिकारियों का कहना है कि इस उत्पाद को किसी बीमारी के इलाज (Treatment of corona) के लिए परमिशन नहीं दी गई है. इसलिए ये जानलेवा साबित हो सकती है. अमेरिका में फ्लोरिडा के एक चर्च में कोरोना के चमत्कारी इलाज का दावा करने वाले प्रधान पादरी और उसके बेटे को गिरफ्तार किया गया है. ये कोरोना का चमत्कारी रूप से इलाज (Treatment of corona) का दावा करते हुए ब्लीच बेचते थे. अब मार्क ग्रेनन और जोसेफ ग्रेनन नाम के दोनों आरोपी फ्लोरिडा पुलिस की गिरफ्त में है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोरोना के चमत्कारी इलाज ने सात अमेरिकी नागरिकों की जान ले ली है. ब्लीच में क्लोरीन डाइऑक्साइड मिला हुआ है, जिसका इस्तेमाल कपड़ा बनाने के लिए किया जाता है. आरोपी इस ब्लीच को कोरोना के इलाज की चमत्कारी दवा बताकर बेचा करते थे. कोरोना के अलावा कैंसर, एचआईवी, एड्स जैसी सभी बीमारियों के इलाज का दावा करते थे.

corona Update और National News के साथ Chhattisgarh और Madhyapradesh से जुड़ी खबरें पढ़े

Russia’s corona vaccine में एक खामी, इन लोगों को नहीं दी जाएगी वैक्सीन

4rtheye web Desk 0 Comments

नईदिल्ली, दुनियाभर को उम्मीद की किरण देने वाली रूस की वैक्सीन (Russia’s corona vaccine) में एक बड़ी खामी सामने आई है. खुद रूस का कहना है कि यूएई, ब्राजील, मैक्सिको सऊदी अरब, और रूस में 12 अगस्त से उसकी वैक्सीन (Sputnik-V) का फेज-3 ट्रायल शुरू हो रहा है।

रूस की कोरोना वैक्सीन (Russia’s corona vaccine) का अन्य दवाओं के साथ क्या रिएक्शन होता है, इसके बारे में भी फिलहाल स्टडी नहीं की गई है। रूस के गामलेया इंस्टीट्यूट का कहना है कि कानूनी तौर पर बच्चों पर वैक्सीन टेस्ट करने से पहले कई कागजात जमा कराने होते हैं। उन्होंने कहा कि रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद अब हम इसे शुरू करने जा रहे हैं।

फेज-3 ट्रायल में 2000 लोगों के शामिल करने की बात कही गई है। रूसके स्वास्थ्य मंत्रालय ने 11 अगस्त को आपातकालीन नियमों के तहत वैक्सीन को पहले और दूसरे ट्रायल के आधार पर मंजूरी दी, लेकिन पुतिन ने कहा कि वैक्सीन की सभी जांच कर ली गई है।

corona Update और National News के साथ Chhattisgarh और Madhyapradesh से जुड़ी खबरें पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *