गंजबासौदामध्यप्रदेश

ओल्डेस्ट प्रकरण निराकरण स्कीम के अन्तर्गत जिला न्यायालय स्थापना विदिशा द्वारा निपटाये 2871 लंबित प्रकरण

विदिशा। म०प्र०उच्च न्यायालय, जबलपुर के माननीय मुख्य न्यायाधिपति श्रीमान रवि मलीमठ के निर्देशों के पालन में एवं मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय खण्डपीठ ग्वालियर के न्यायाधिपति श्रीमान मिलिंद फ़ड़के पोर्टफोलियो जज जिला विदिशा के मार्गदर्शन में एवम प्रधान जिला सत्र न्यायधीश श्रीमान ज़ाकिर हुसैन की सतत् निगरानी में न्यायिक जिला स्थापना विदिशा में पदस्थ न्यायिक अधिकारियों द्वारा माननीय उच्च न्यायालय मध्यप्रदेश द्वारा प्रति तिमाही में 25 पुराने प्रकरणों के निराकरण संबंधी योजना के अंतर्गत वर्षों पुराने लंबित कई प्रकरणों का निराकरण कर कीर्तिमान स्थापित किया है।

बताया गया कि माननीय उच्च न्यायालय जबलपुर द्वारा पूरे वर्ष में प्रत्येक न्यायिक अधिकारी को 100-100 पुराने प्रकरणों का निराकरण किये जाने का वार्षिक लक्ष्य दिया गया था, जिसके पालन में कुल 2935 प्रकरणों में से 2871 प्रकरणों का निराकरण किया गया । इस प्रकार न्यायिक जिला स्थापना विदिशा पर पदस्थ न्यायिक अधिकारीगण द्वारा अपने-अपने न्यायालयों में लंबित पुराने प्रकरणों में से 98 प्रतिशत प्रकरणों का निराकरण कर कीर्तिमान स्थापित किया गया है।

जिनमें श्री जाकिर हुसैन प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश विदिशा, श्री राजीव कुमार अयाची, विशेष न्यायाधीश, (एससी/एसटी), विदिशा, अतिरिक्त सत्र न्यायधीश विदिशा श्री मनोज कुमार राठी प्रथम जिला एवं-अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश श्री दीपक बंसल, द्वितीय जिला एवं अतिरिक्त न्यायाधीश, विदिशा श्री जसवंतसिंह यादव तृतीय जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, विदिशा, श्री अयाज़ मोहम्मद, चतुर्थ जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, विदिशा, श्री चंदनसिंह, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, विदिशा, श्रीमती मोना शुक्ला पाण्डे, द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खड. विदिशा, श्री विजय कुमार पाण्डे, तृतीय व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खंड. विदिशा, श्रीमती शिवांगी श्रीवास्तव चतुर्थ व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खंड. विदिशा, सुश्री अनुप्रिया पाराशर प्रधान मजिस्ट्रेट ” किशोर न्याय बोर्ड, विदिशा, श्री गजेन्द्र रावत, प्रथम व्यवहार न्यायाधीश, विदिशा के न्यायालय के द्वितीय अति न्यायाधीश, विदिशा, श्री गौरव चौरसिया प्रथम व्यवहार, न्यायाधीश वरिष्ठ खंड विदिशा के न्यायालय के तृतीय अति न्यायाधीश विदिशा, न्यायाधीश कनिष्ठ खंड विदिशा सुश्री निशा रघुवशी, श्रीमती नीलम मिश्रा द्वितीय जिला एवं अति सत्र न्यायाधीश गंजबासौदा, श्री डी०एस० परमार, तृतीय जिला एवं अतिरिक्त न्यायाधीश गंजबसौदा, श्री अशोक भारद्वाज, अतिरिक्त जिला न्यायाधीश, गंजबासौदा, श्री शशांक सिंह, प्रथम ब्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खंड, गंजबासौदा, श्री पार्थ शंकर मिश्र, द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खंड गंजबासौदा, वरिष्ठ खंड, गंजबासौदा, श्री रावेन्द्र सोनी, तृतीय ब्यवहार न्यायाधीश, श्री राहुल निरंकारी, प्रथम व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड, गंजबासौदा, श्री श्रीकृष्ण वरार, तृतीय व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड, गंजबासौदा, श्री सुरेन्द्र मेश्राम, प्रथम जिला न्यायाधीश, सिरोज, सुश्री अपूर्वा ताम्रकार व्यवहार न्यायधीश, तहसील सिरोंज, सुश्री अंकिता जैन, व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड, सिरोंज, श्रीमती संतोषी वासनिक, जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, कुरवाई, श्री सुधीर सिंह निगवाल, व्यवहार न्यायाधीश वरिष्ठ खड. कुरवाई, सुश्री निशा कुरील,व्यवहार न्यायधीश, कनिष्ठ खंड कुरवाई, श्री विनोद कुमार शर्मा, जिला एवं अति. सत्र न्यायाधीश, लटेरी, श्री कुलदीप नामदेव, व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड, लटेरी के न्यायालय के अति. न्यायाधीश, श्रीमती दीपा पोल, व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड, लटेरी द्वारा प्रकारण निराकृत किए गए। 98 प्रतिशत पुराने प्रकरणों के मामलों को निराकृत करने में अभिभाषक संघ विदिशा, गंज बासौदा, सिरोंज, कुरवाई का सराहनीय सहयोग रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button