एआईएफ ने मध्यप्रदेश को दिये 6000 वेंटिलेटर और 3 हजार मॉनीटर

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कन्ट्री डायरेक्टर मेथ्यू जोसफ से की चर्चा

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन (एआईएफ) ने मध्यप्रदेश को 6 हजार सिंगल यूज सेल्फ-पावर्ड वेंटिलेटर और 3 हजार मॉनीटर उपलब्ध कराये हैं। जो जेरोक्स से प्राप्त किये गये हैं। उन्होंने कहा कि इनका उपयोग दूरस्थ स्वास्थ्य संस्थाओं में मरीजों के हित में किया जाएगा। वेंटीलेटर डिस्पोजेबल, हाथों से मुक्त उपकरण है, जिन्हें बिजली या बैटरी की आवश्यकता नहीं होती है।
   स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने उक्त महत्वपूर्ण उपकरण प्रदेश को प्राप्त होने पर एआईएफ के जोसफ से वर्चुअल चर्चा की और उनका आभार माना। चर्चा में स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर आने से संक्रमण शहरों से ग्रामीण स्तर तक फैला है।

कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के लिये जन-भागीदारी से अनेक कार्यक्रम संचालित किये जा रहे हैं। साथ ही किल-कोरोना अभियान चलाकर डोर-टू-डोर संभावित रोगियों का सर्वे किया जा रहा है। शहरों में कोरोना सहायता केन्द्र बनाकर संक्रमित की पहचान की जा रही है और उनका समुचित इलाज भी किया जा रहा है। मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि प्रदेश में संक्रमण की दर में भी कमी आयी है और रिकवरी भी बढ़ रही है।
   मंत्री डॉ. चौधरी ने प्रदेश को वेंटिलेटर और मॉनिटर उपलब्ध कराने के लिए कन्ट्री डॉयरेक्टर मेथ्यू जोसफ को धन्यवाद दिया। जोसफ ने प्रदेश में तीन स्थानों पर पोर्टेबल अस्पताल और 2 स्थानों पर ऑक्सीजन प्लांट लगाने की सहमति भी दी है। डॉ. चौधरी ने कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी की रोकथाम के लिए संस्था द्वारा मध्यप्रदेश को दिये गये सहयोग के लिये कृत्ज्ञता जाहिर की।


   स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि अमेरिकन इंडियन फाउंडेशन महिलाओं, बच्चों और युवाओं पर विशेष ध्यान देने के साथ भारत के वंचितों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

एआईएफ का उद्देश्य समुदायों, सिविल सोसाइटी और विशेषज्ञता के बीच व्यापक जुड़ाव है, जिससे संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत के बीच एक स्थायी सेतु का निर्माण होता है। उन्होंने बताया कि अमेरिकन इंडियन फाउंडेशन के भारत में संचालन का मुख्यालय दिल्ली एनसीआर में स्थित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button