छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायगढ़

छग बीजेपी का बड़ा एलान : 29 दिसंबर को घेरा जाएगा यह नगर निगम,क्या इस नगर निगम के कामों से हमारे दर्शक रखते हैं इत्तेफाक ?

बीजेपी का बड़ा एलान

नमस्कार दोस्तों फोर्थ आई न्यूज़ में आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है। दोस्तों नगर निगम किसी भी शहर की मूलभूत सुविधाओं के लिए ज़िम्मेदार होता है। रोड, नाली, स्ट्रीट लाइट जैसी बुनियादी चीज़ें भले ही छोटीं लगतीं हों मगर जहाँ इनकी व्यवस्था बिगड़ती है वहां रहवासियों की परेशानियां बढ़नी शुरू हो जाती है। इन ज़रूरी मुद्दों पर कभी-कभी मेनस्ट्रीम मीडिया भी खामोश रहता है। मगर हमारी कोशिश रहती है कि हर छोटी बड़ी समस्या से आपको अवगत करवाते हुए उसके समाधान पर बात हो। आज हम बात कर रहे हैं रायपुर नगर निगम की जिसकी व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े हो रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि रायपुर नगर निगम तय मापदंडों पर काम नहीं कर रहा है और भारी भ्रष्टाचार के चलते आमजन का जीना मुहाल हो गया है।

यह दावा किया है छत्तीसगढ़ के मुख्य विपक्षी दल बीजेपी ने। भारतीय जनता पार्टी रायपुर जिला द्वारा जिला कार्यालय एकात्म परिसर में भाजपा नेताओ पदाधिकारीयों और कार्यकर्ताओं की एक बैठक हुई है जिसमें रायपुर नगर निगम में महापौर की शह पर अनियमितता और मनमानी जैसे विषयों को लेकर एक बड़ा आंदोलन की तैयारी है जो 29 दिसम्बर को बीजेपी अंजाम देगी।

इस आंदोलन में सांसद सुनील सोनी, वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल , पूर्व मंत्री राजेश मूणत , पूर्व जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी,ग्रामीण विधायक नंदे साहू जिला अध्यक्ष जयंती भाई पटेल , नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे भी मौजूद रहेंगे।

सांसद सुनील सोनी ने कहा है कि मैं एडवाइज़री कमेटी का चैयरमैन हूँ लेकिन महापौर परिषद बेलगाम हो गई है मैं इस तरह की बेलगाम व्यवस्था जिसमे निजी हितों को साधने के अलावा कोई कार्य नही किया जा रहा इसकि शिकायत करूँगा जिससे केंद्र सरकार द्वारा भेजे जा रहे अनुदान के दुरुपयोग पर लगाम लगाई जा सके केंद्र द्वारा दी जा रही राशि जनता के लिए है उसकी सुविधाओ के लिए है इस तरह दुरुपयोग करने के लिए नही।

पूर्व मंत्री विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि नगर निगम की नाकामीयो का पुलिंदा है ऐसे बहुत से विषय है जिससे जनता सीधे तौर पर प्रभावित है संपत्ति कर माफ , रोड , नाली , मच्छर और सफाई जैसे कई विषय लेकर हम सभी कार्यकर्ता अपने अपने विधानसभा से कार्यकर्ताओ की टोली बना कर नगर निगम रायपुर का घेराव करने निकलेंगे उन्होंने महापौर को चेतावनी देते हुए कहा कि जो वादे आपने जनता से किये हैं उन्हें पूरा करना होगा अन्यथा कुर्सी छोड़ने को तैयार रहें ।

पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि नियमो को ताक पर रखकर अपनी दुकानदारी स्थापित करना गैर जिम्मेदाराना है यदि आज शैक्षणिक संस्थान का व्यवसायी करण किया जाता है तो वह असामाजिक तत्वों का जमावड़ा बन जायेगा रायपुर शहर की अन्य चौपटियो में आए दिन गुंडागर्दी की घटनाएं होती है सभ्य परिवार के लोग चौपाटी जैसी जगहों पर जाने से कतराने लगे हैं महापौर जिस समाज से आते हैं उन्हें शिक्षा का महत्व पता नही होना स्वाभाविक है परंतु नियम सह भी शैक्षणिक केंद्र का व्यवसायी करण करना नियम के विरुद्ध है गैर कानूनी है और निजी हितों को साधने के लिए किए जा रहे व्यवसायी करण का आखरी सांस तक विरोध करता रहूँगा हम किसी कीमत पर विधार्थियो के भविष्य से खिलवाड़ नही होने देंगे ।

मीनल चौबे ने कहा कि अब नगर निगम में तानाशाही हावी हो गई है भाजपा पार्षदों को अपने वार्ड की जनता के हितों के कार्यो के लिए भटकना पड़ता है मगर काम नही होता राजनीतिक विरोधाभाष के दीगर जनता भी है जिसने आपको अपना बहुमूल्य मत देकर महापौर के पद पर आसीन किया मगर आपने जनता को छलने का कार्य किया , आज जन सुविधा के कार्यो के अलावा नगर निगम सब कर रहा है स्मार्ट सिटी निर्माण के नाम पर चौक चौराहों में लाइट के अलावा कोई अधोसंरचना का कार्य नही किया जा रहा चुन चुन कर अपने करीबियों को खुश किया जा रहा भले उसके लिए नियमो की धज्जियां उड़ानी पड़े ।

तो यह वो ऐसे तमाम विषय हैं जिसे लेकर भाजपा आरोप लगा रही है कि कांग्रेस के शासनकाल में जनता को मूलभूत सुविधाओं के लिए तरसना पड़ रहा है। लेकिन हम दर्शकों से पूछना चाहेंगे। आप में से हमारे कई दर्शक राजधानी रायपुर में ही रहते हैं क्या बीजेपी ने जो आरोप लगाए हैं वो सही हैं ? या फिर वास्तव में रायपुर नगर निगम के कामों में आप कोई ढिलाई या लापरवाही देखते हैं ? आप रायपुर नगर निगम को उसके वर्तमान के कामों के लिए 10 में से कितने अंक देना चाहेंगे,

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button