विशेषज्ञों का दावा, 2022 तक जारी रहेगा कोरोना का कहर

नईदिल्ली, घर में कोरोना के खौफ से बैठी आम जनता उम्मीद कर रही है कि कब उसे आजादी के साथ घूमने मिलेगा और कब वो वापस अपनी पुरानी जिंदगी जी पाएंगे, लेकिन इस बीच दुनियाभर में कोरोना वायरस को लेकर अलग-अलग रिपोर्ट औऱ दावे सामने आ रहे हैं, जिसमें कभी जल्द कोरोना का कहर खत्म होने की बात सामने आती है तो कभी ये रिपोर्ट डरा देती हैं.

अब जो रिपोर्ट सामने आई है वो डरावनी हो सकती है, दरअसल वाशिंगटन के विशेषज्ञों का दावा है कि इस महामारी से आगामी कुछ वर्षों में निजात मिलने की संभावना नहीं है. उनके मुताबिक इसका कहर 2022 तक रह सकता है ।

विशेषज्ञों ने यह भी कहा कि इस घातक संक्रमण से मुकाबला किया जा सकता है जब बहुसंख्‍यक आबादी की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी ।

ढाई लाख करीब जान ले चुका है कोरोना वायरस

दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक 2.39 लाख से अधिक लोग जान गंवा चुके हैं, जबकि 34.17 से अधिक लोग इस घातक संक्रमण की चपेट में हैं।  यह दावा अमेरिकी शोधकर्ताओं ने किया है, जहां कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्‍यादा मामले दर्ज किए गए हैं और मृतकों की संख्या भी सबसे अधिक है। यहां कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक 65,782 लोगों की जान जा चुकी है, ज‍बकि 11.31 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं

चिकित्‍सा विशेषज्ञ जहां अब तक इस घातक संक्रमण के उपचार के लिए किसी प्रभावी दवा का पता नहीं लगा सके हैं, वहीं अब तक इससे बचाव के लिए वैक्सीन भी उपलब्‍ध नहीं है।  वैक्‍सीन को लेकर हालांकि वैज्ञानिकों ने उम्‍मीद जगाई है, जिसके लिए ह्यूमन ट्रायल भी हो रहा है। लेकिन अमेरिकी विशेषज्ञों का यह दावा दुनियाभर में मायूसी पैदा करने वाला है, जो कोरोना वायरस संक्रमण की जद से बाहर निकलने के लिए छटपटा रहा है।

इस बीच अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा में संक्रामक रोग अनुसंधान एवं नीति केंद्र की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना महामारी का असर दुनिया में अगले 18 से 24 महीनों के लिए रह सकता है और इससे मुकाबले के लिए लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना आवश्‍यक है।

 

National Chhattisgarh  Madhyapradesh  से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button