MP Headline 26 january 2021 : गणतंत्र दिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश में जानिये क्या है? खास,पढ़िये सुबह की सुर्खिंया

1. आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश में नहीं दिखेगी झांकी, केंद्र से थीम नामंजूर

mpp1

भोपाल : . आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली में राजपथ पर होने वाली परेड में इस बार मध्यप्रदेश की झांकी नहीं दिखेगी। ऐसा तीन साल बाद हो रहा है। दरअसल, ये झांकियां विशेष थीम पर बनाई जाती हैं। इसका निर्माण कार्य देखने वाले मप्र माध्यम के महाप्रबंधक ने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से आत्म निर्भर मध्य प्रदेश थीम पर झांकी तैयार करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया था। लेकिन, केंद्र से इस पर कोई जवाब नहीं आया। माध्यम के अधिकारियों ने भी केंद्र से इस पर फॉलोअप नहीं लिया। इसलिए झांकी तैयार नहीं हो सकी।

2. सीएम शिवराज- आम जनता को लोक सेवाओं का बेहतर लाभ मिले

cmm

भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया से चाय पर चर्चा की। सीएम ने कहा कि आम जनता को लोक सेवाओं का बेहतर लाभ दिलाया जाए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में नागरिकों को लगभग 500 सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। मध्यप्रदेश इस दिशा में निरंतर प्रगति कर रहा है। जनाओं के लाभ की जो समय सीमा तय की गई है, उस अवधि में संबंधित व्यक्ति को फायदा मिल जाना चाहिए।

3. मध्यप्रदेश के 4 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का लाभ नहीं मिलेगा, सभी आवेदन निरस्त होंगे

pension

भोपाल : . मध्यप्रदेश के 4 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का लाभ नहीं मिलेगा। इन कर्मचारियों में 1 जनवरी 2005 के बाद राज्य सरकार की सेवा में आए अधिकारी-कर्मचारी, अध्यापक और पंचायत सचिव शामिल हैं। ये सभी न्यू पेंशन स्कीम को खत्म कर पुरानी पेंशन लागू करने की मांग कर रहे थे ।

जानकारी के मुताबिक, पुरानी पेंशन व्यवस्था के लिए भोपाल, ग्वालियर, शाजापुर, शिवपुरी, मंदसौर, उज्जैन, रीवा, दतिया, नीमच और रायसेन जिले से शिक्षकों और कर्मचारियों ने आवेदन दिए थे। ये आवेदन जिला शिक्षा अधिकारियों ने लोक शिक्षण संचालनालय को भेजे। जिसे सरकार के वित्त विभाग ने निरस्त कर दिया है। उसने तर्क दिया है कि प्रदेश में पेंशन नियम 72 लागू नहीं हैं। इसलिए इस बारे में जो भी आवेदन आए हैं, उन्हें खारिज किया जाए।

4. राज्य निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह ने कहा – 3 मार्च को फाइनल होगी वोटर लिस्ट, इसके बाद करेंगे चुनाव की घोषणा

s 1

भोपाल : मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय एवं पंचायतों के चुनाव कोविड-19 के संक्रमण के चलते तीन महीने के लिए स्थगित हो गए हैं। राज्य निर्वाचन आयोग ने 27 दिसंबर 2020 को आदेश जारी कर कहा कि अब ये चुनाव फरवरी 2021 के बाद कराए जाएंगे। राज्य निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश की वोटर लिस्ट 3 मार्च को फाइनल हो जाएगी।

नगरीय निकाय के चुनाव की घोषणा इसके बाद की जाएगी। उन्होंने कहा कि अब चुनाव आगे नहीं बढ़ाए जाएंगे। जानकारी के मुताबिक, नगरीय निकायों के चुनाव अप्रैल 2020 तक हो जाना चाहिए था। लेकिन कोराना संक्रमण के चलते चुनाव टाल दिए गए थे। पहले यह चुनाव फरवरी में कराने की तैयारी कमलनाथ सरकार ने की थी, लेकिन महापौर के चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से कराने और कई जिलों में वार्डों का सीमांकन नए सिरे से करने की प्रक्रिया में विलंब होने के कारण यह संभव नहीं हो पाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button