तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच लापरवाही पड़ेगी भारी

बेमेतरा

लॉकडाउन में थोड़ी छूट से बाजारों एवं बैंकों में उमड़ी भीड़ से प्रशासन चिंतित है। इस पर कलेक्टर शिव अनंत तायल ने अप्रसन्नत जाहिर करते हुए सभी जिला वासियों से आग्रह किया है कि आप सभी कोविड के गाइडलाइन का अनिवार्य रूप से पालन करें नही तो और भी भयावह स्थिति निर्मित होंगी।

उन्होंने दो टूक कहा अगर ऐसी ही स्थिती बनी रहीं और हम अपनें स्वभाव में परिवर्तन ना करें तो तीसरी लहर आने में जरा भी देर नही लगेगीं।जैसा कि चिकित्सा विशेषज्ञों ने तीसरी लहर की आशंका जाहिर की है इन आशंकाओं के बीच में इस तरह लापरवाही निश्चित ही हम सब पर भारी पड़ेगी और इसका खमियाजा पूरे समाज को ही भुगतना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में देखा गया है कि लोग अनावश्यक रूप से बाजारों में भीड़ कर रहें है। सोशल डिस्टनेसिंग का पालन नही कर रहे है ,जिससे ना केवल कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन बल्कि हम संक्रमण को बढ़ाने में मदद कर रहें हैं। संक्रमण के विस्तार को रोकना केवल प्रशासन की जिम्मेदारी नही है बल्कि प्रत्येक व्यक्ति का भी यह कर्तव्य है कि अपनें एवं पूरे समाज के लिए इन नियमों का पालन करें।

आप सब के सहयोग एवं लगभग महीनें भर से ऊपर लॉक डाउन से जिलें में संक्रमण की दर में बड़ी मुश्किल से कमी आयी है। जिसे यथासंभव हमें बनाये रखना है। इसके लिए आप सब का सहयोग अति आवश्यक है। आज की स्थिति में जो संक्रमण दर अप्रैल माह में लगभग 46 प्रतिशत था अब वह घटकर महज 4 प्रतिशत रह गया है। इसका यह मतलब नही है कि अब कोरोना नही होगा।

अगर हमारे बीच कोई एक भी संक्रमित व्यक्ति रहेगा तो उसे एक से 100 बनने में देर नही लगती है। इसके लिए हमें कोविड गाइडलाइन के पालन के साथ ही कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर नियमों का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा। जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग,मास्क की अनिवार्यता एवं साबुन से हाथ धोना,सेनेटाइजर का सतत उपयोग शामिल है।

सभी व्यपारियों बंधुओं से भी आग्रह हैं कि आप अपनें दुकानों में भी अनिवार्य रूप से इन नियमों का पालन करें एवं ग्राहकों को भी प्रेरित करें।बच्चों, बुजुर्गों एवं महिलाओं को खतरा अधिक- तायल ने कहा कोरोना से बच्चों, बुजुर्गों एवं गर्भवती महिलाओं को खतरा अधिक है। आप सभी लोग घर मे अति आवश्यक काम हो तो ही बाहर निकलें।

घर के केवल एक युवा सदस्य ही बाहर निकले एवं वापस आकर अच्छे से हाथ धोकर सेनेटाइज कर के ही घर अंदर प्रवेश करें। किसी भी स्थिती में बच्चों, बुजुर्गों एवं गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर निकलनें ना दे।टीकाकरण एवं टेस्टिंग अवश्य कराये-कलेक्टर ने कहा कि वर्तमान समय मे कोरोना एवं उसके दुष्प्रभाव से बचने के लिए टीकाकरण अवश्य कराएं।

वैक्सीन ही एक मात्र रामबाण दवा है। टीकाकरण को लेकर उड़ाई जा रही किसी भी प्रकार के अपवाहों से दूर रहें। कोविड का टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। किसी भी व्यक्ति मे लक्षण दिखने एवं किसी संक्रमित मरीज के सम्पर्क में आने पर टेस्टिंग अवश्य कराये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button