छत्तीसगढ़रायपुर

मंत्री मो.अकबर के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई,वन विभाग के 3 अधिकारी-कर्मचारी निलंबित

रायपुर। वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई की गई है। मुख्य वन संरक्षक वन वृत्त सरगुजा अनुराग श्रीवास्तव ने वनमंडल सूरजपुर के अंतर्गत तीन विभागीय अधिकारी-कर्मचारियों को कार्य में लापरवाही बरतने के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। यह कार्रवाई जंगली हाथी के कुचलने से वहां एक ग्रामीण की हुई मृत्यु पर की गई है। इनमें निलंबित अधिकरी-कर्मचारियों में उपवन क्षेत्रपाल प्रभारी परिक्षेत्र अधिकारी प्रतापपुर कमलेश कुमार राय, परिक्षेत्र सहायक प्रतापुर परिक्षेत्र गुलशन यादव और परिसर रक्षक प्रतापपुर परिक्षेत्र श्री जीतन सिंह शामिल हैं।
सूरजपुर वनमंडल के अंतर्गत प्रतापपुर परिक्षेत्र के ग्राम सरहरी, पतरापारा में 28 सितंबर की रात्रि लगभग 12 बजे जंगली हाथी के कुचलने के कारण एक ग्रामीण की मृत्यु हो गई। घटना के दरम्यान कार्य में लापरवाही और ग्रामीणों को उचित समझाईश देने में असमर्थता के कारण उक्त तीनों अधिकारी-कर्मचारियों के निलंबन की कार्रवाई की गई है। निलंबन अवधि में तीनों अधिकारी-कर्मचारियों का मुख्यालय वनमंडल कार्यालय सूरजपुर निर्धारित किया गया है।
मंत्री अकबर ने हाल ही में समीक्षा बैठक लेकर समस्त विभागीय अमले को सख्त निर्देश दिए है कि राज्य में मानव-हाथी द्वंद को गंभीरता से लें। किसी तरह की लापरवाही न बरतते हुए मानव-हाथी द्वंद में कमी लाने सहित नियंत्रण और समुचित प्रबंधन के लिए समन्वित प्रयास करें। उन्होंने इस दौरान जंगली हाथियों के साथ साहचर्य के लिए ग्रामीणों में जन जागरूकता, प्रचार-प्रसार एवं ग्रामीणों को शिक्षा और उनके साथ द्वंद से बचने के लिए उपायों को आदान-प्रदान करने पर भी विशेष जोर दिया है। इसके तहत उन्होंने राज्य के जंगली हाथियों से प्रभावित वनमंडलों में हाथियों के संरक्षण तथा मानव-हाथी द्वंद को न्यूनतम करने के लिए विभिन्न प्रकार के नवाचार, क्षमता विकास प्रशिक्षण और जन जागरुकता आदि के कार्यक्रमों को भी बेहतर ढंग से संचालित करने के संबंध में निर्देशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button