छत्तीसगढ़रायपुर

रायपुर : शहीद स्मारक भवन को धरोहर के रूप में विकसित किया जाएगा : राजेश मूणत

रायपुर : लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि शहीद स्मारक भवन को धरोहर के रूप में विकसित किया जाएगा। मूणत ने आज शाम यहां अपने निवास कार्यालय में शहीर स्मारक भवन के उन्नयन हेतु अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उपस्थित लोक निर्माण विभाग और मोर रायपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट नगर निगम रायपुर के अधिकारियों को इस संबंध में महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए।

मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि शहीद स्मारक भवन को धरोहर के रूप में विकसित किया जाएगा

मूणत ने अधिकारियों से कहा कि शहीद स्मारक भवन का ऐसे भव्य तरीके से उन्नयन होना चाहिए, जिससे शहर की प्रमुख धरोहर के रूप में अन्य राज्यों के लिए उदाहरण साबित हो सके। उन्होंने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को जल्द से जल्द उन्नयन कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। बैठक में लाखे नगर स्थित हिन्द स्पोर्टिंग मैदान को बहुउद्देशीय स्टेडियम बनाने पर भी चर्चा की गई। इस अवसर पर रायपुर नगर निगम के महापौर प्रमोद दुबे, सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा, लोक निर्माण विभाग के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी अनिल राय, रायपुर नगर निगम कमिश्नर रजत बंसल सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

2 )  रायपुर : एम्स में मेडिकल स्टोर्स संचालित करने का झांसा देकर 18 लाख की ठगी, आरोपी गिरफ्तार

रायपुर : एम्स अस्पताल में मेडिकल स्टोर के संचालन के लिए आदेश दिलवाने का झांसा देकर युवक से 18 लाख की ठगी करने वाला आरोपी को सिविल लाईन पुलिस ने गिरफ्तार किया है।मामले की खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि प्रार्थी आशीष शर्मा पिता डीडी शर्मा 35 वर्ष पंजाब नेशनल बैंक के पास बोरियाकला का रहने वाला है। प्रार्थी का परिचित आरोपी मुकेश गोस्वामी मंत्रालय में भृत्य के पद पर कार्यरत है।

युवक से 18 लाख की ठगी करने वाला आरोपी को सिविल लाईन पुलिस ने गिरफ्तार किया है

आरोपी ने प्रार्थी को बताया कि उसका परिचय प्रदेश के बड़े-बड़े अधिकारियों एवं नेताओं से है। जिससे तुम्हें कोई काम होगा तो बताऊंगा। जिसके बाद आरोपी ने प्रार्थी को फोन कर कहा कि तुम सर्किट हाऊस में आकर मिलों तुम्हारे लिए काम है। जिस पर प्रार्थी ने आरोपी मुकेश से मिलने पहुंचा तो आरोपी ने प्रार्थी को बताया कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में मेडिकल स्टोर्स संचालित करनें का काम आया है। यदि तुम इच्छुक हो तो वह आदेश तुम्हे दिलवा सकता हूं।

आरोपी ने प्रार्थी को फोन कर कहा कि तुम सर्किट हाऊस में आकर मिलों तुम्हारे लिए काम है

जिससे प्रार्थी राजी हो गया और आरोपी ने प्रार्थी से 18 लाख रूपए मांगा कि बड़े अधिकारियों को खिलाना पड़ेगा तभी आदेश पास करेंगे। फिर प्रार्थी ने चार किस्तों में आरोपी को कुल 18 लाख रूपए दे दिया। जिसके बाद आरोपी लगातार प्रार्थी को घुमाते रहा। इस बीच प्रार्थी को पता चला कि एम्स अस्पताल में मेडिकल संचालन की कोई कार्यवाही नहीं चल रही है। तब प्रार्थी ने आरोपी से अपना पैसा वापस मांगा। जिससे आरोपी ने प्रार्थी को 10 लाख और 8 लाख का दो चेक दिया।

आरोपी लगातार प्रार्थी को घुमाते रहा

जिसे प्रार्थी द्वारा बैंक में लगाने पर बाऊंस हो गया। फिर प्रार्थी ने आरोपी से कहा कि तुम्हारे खिलाफ थाने में शिकायत करूंगा। जिस पर आरोपी ने प्रार्थी को आश्वासन दिया कि एक माह के अंदर नगद पैसे लौटा दूंगा। उसके बाद भी आरोपी ने पैसे नहीं लौटाए तो प्रार्थी ने इसकी शिकायत सिविल लाईन थाने में की। मामले में पुलिस ने आरोपी मुकेश गोस्वामी पिता सुभाष गोस्वामी 30 वर्ष निवासी आरडीए कालोनी टिकरापारा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button