देश

संबित पात्रा ने कांग्रेस पर साधा निशाना

  • पुलवामा हमले के बाद एक तरफ जहां देशभर में पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा भरा है, वहीं दूसरी तरफ राजनीति भी जारी है. भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने पुलवामा आतंकी हमले पर कांग्रेस द्वारा केंद्र सरकार पर लगाए गए आरोपों पर चुप्पी तोड़ी है. पात्रा ने कि शहादत पर कांग्रेस को राजनीति नहीं करनी चाहिए. यह ऐसा समय है जब सभी लोगों को एकजुट होकर देश के साथ खड़ा रहना चाहिए.
  • पात्रा ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि विपक्ष को देश के समर्थन में प्रधानमंत्री और सेना के साथ खड़ा होना चाहिए लेकिन कांग्रेस सियासत कर रही है. पाकिस्तान में इसका फायदा उठाया जा रहा है और पाकिस्तान के चैनल हेड लाइन बना रहे हैं. पात्रा ने कहा कि भारत की राजनीतिक पार्टी के जो नेता ट्वीट करते हैं, वो  पाकिस्तान में चर्चा का विषय बने हुए हैं.
  • संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस नेता मनीष तिवारी और शशि थरूर ने जो ट्वीट किए हैं दोनों के ट्वीट हिंदुस्तान के विरोध में हैं. मनीष तिवारी ने पानी रोकने की बात पर जो बयान दिया कि इसमें कोई दम नहीं है. पाकिस्तान की हेड लाइन बनी हुई है. संबित पात्रा ने कहा, कांग्रेस ने कहा था कि हम इस पर राजनीति नहीं करेंगे लेकिन उसके बावजूद राजनीति शुरू कर दी है. बता दें कि कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ट्विट कर कहा कि वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के साथ ना खेलना सरेंडर करने से भी बदतर होगा.
  • पात्रा ने कहा कि कम समय में भारत की सरकार ने पाकिस्तान को कड़ा जवाब दिया है. संयुक्त राष्ट्र काउंसिल में पहली बार प्रस्ताव पारित हुआ जिसमें जैश-ए-मोहम्मद का नाम आया है. तमाम देश भारत के साथ खड़े हैं. आतंकवाद को लेकर चीन ने भी भारत का समर्थन किया है लेकिन दुख की बात है कि देश की कुछ राजनीतिक पार्टियां इस मुद्दे का राजनीति कर रही हैं.

  • बीजेपी प्रवक्ता पात्रा ने कहा कि हम पाकिस्तान से भी लड़ लेगें. इससे पहले भी भारत ने पाकिस्तान को सबक सिखाया है, लेकिन अफसोस है कि देश के दुश्मन देश के अंदर हैं. कांग्रेस पुलवामा में शहीद होने वाले जवानों की जाति और धर्म के बारे में पता लगा रही है. सेना पूरे देश की है, इसलिए उसकी जाति और धर्म नहीं देखा जा सकता.
  • संबित पात्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी बार-बार कह चुके हैं कि जो आग आपके दिल में है वह मेरे दिल में है. जो दुख आपको है वह  मुझे भी है. संबित पात्रा ने कहा कि विपक्षी पार्टियां इस हमले को 2019 लोकसभा चुनाव से जोड़कर इसका पूरा राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रही हैं, यह ठीक नहीं है. बता दें कि पुलवामा हमले के बाद विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार पर निशाना साध रही हैं कि मोदी सरकार में आतंकी हमलों में बढ़ोतरी हुई है.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button