देशबड़ी खबरें

वोट मांगने पहुंचे अनुपम खेर, तो घोषणा पत्र दिखाकर बोला दुकानदार- 2014 के वादों का क्या हुआ

अपनी पत्नी  किरण खेर के लिए चुनाव प्रचार कर रहे अनुपम खेर को उस समय शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा जब एक दुकानदार ने पिछले वादे के बारे में पूछ लिया. प्रचार के लिए वह एक दुकान पर पहुंचे तो दुकानदार ने उन्हें 2014 के चुनावी घोषणा पत्र दिखाकर पिछले वादों के बारे में पूछा तो उनसे जवाब देते नहीं बना और वहां से बिना कुछ कहे ही वापस लौट गए.

चंडीगढ़ से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के टिकट पर किरण खेर चुनाव लड़ रही हैं. वह 2014 में भी इस सीट पर विजयी रही थीं और दूसरी बार अपनी किस्मत आजमा रही हैं. उनके लिए मशहूर फिल्म अभिनेता अनुपम खेर भी इन दिनों लगातार चुनाव प्रचार कर रहे हैं.

अपने साथियों के साथ चुनाव प्रचार करते हुए अनुपम खेर अचानक एक दुकान पर पहुंचे तो वहां एक दुकानदार ने एक कार्ड दिखाते हुए पिछले लोकसभा चुनाव में किए गए वादों की स्थिति जाननी चाही तो अनुपम खेर से कुछ कहते नहीं बना और वह वहां से आगे बढ़ गए.

चुनाव प्रचार में बिजी अनुपम खेर के लिए अभी समय अच्छा नहीं चल रहा है. एक दिन पहले एक स्थानीय अखबार ने दावा किया कि अनुपम खेर की जनसभा में ज्यादा भीड़ नहीं आ रही. हालांकि उन्होंने इस दावे पर प्रहार करते हुए कहा, ‘मैंने अब तक 515 फिल्में की जिसमें कई हिट नहीं हुईं.’ यह कहते हुए अनुपम खेर ने अपनी रैली की भीड़ दिखाने की भी अखबारों से अपील की. उन्होंने कहा कि जो कल की रैली भीड़ न होने के चलते रद्द होने की बात कर रहे थे, उन्हें आज की यह तस्वीर दिखानी चाहिए.’

अनुपम खेर ने ट्विटर पर न्यूज रिपोर्ट और अपनी दूसरी चुनावी रैली की तस्वीर पोस्ट करते हुए ट्वीट किया कि पहली तस्वीर बिल्कुल सही है. मैं रैली स्थल पर समय से पहले पहुंच गया और वहां कोई नहीं था. इसलिए मैं दूसरी जगह चला गया. लेकिन दूसरी जनसभा की तस्वीर सच्चाई बयां कर रही है.

किरण खेर ने 2014 के चुनाव में जीत हासिल की थी. तब उन्हें 42.20 फीसदी मत शेयर के साथ 1,91,362 वोट मिले थे. जबकि कांग्रेसी उम्मीदवार पवन कुमार बंसल को 26.84% मत शेयर के साथ 1,21,720 वोट हासिल हुए थे. तीसरे नंबर पर आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार अभिनेत्री गुल पनाग रही थीं

अब एक बार फिर किरण खेर बीजेपी और पवन कुमार बंसल कांग्रेस के टिकट पर आमने-सामने हैं. चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर पर 7वें चरण में 19 मई को मतदान होना है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button