छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

छत्तीसगढ़ की IAS श्रद्धा शुक्ला ने मसूरी में गाया प्रदेश का राजगीत, दिया छत्तीसगढ़ी संस्कृति का परिचय

IAS श्रद्धा शुक्ला

रायपुर। छत्तीसगढ़ की आईएस श्रद्धा शुक्ला ने यूपीएएसी की परीक्षा में आल इंडिया 45वां रैंक लाकर प्रदेश का नाम गौरवान्वित किया था। अब एक बार फिर आईएस श्रद्धा शुक्ला ने छत्तीसगढ़ का दूसरे राज्य में प्रतिनिधित्व किया है। उत्तराखंड के मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक एकेडमी में सोमवार को इंडिया डे सेलिब्रेट किया गया, जिसमें देशभर से IAS, IPS की ट्रेनिंग ले रहे प्रशिक्षु अधिकारी शामिल हुए।

इस मौके पर जहाँ कुछ प्रशिक्षुओं को अपने राज्य का प्रतिनिधत्व करते हुए अपना हुनर दर्शन था। तभी मंच पर आईएस श्रद्धा शुक्ला ने कमान संभाली और छत्तीसगढ़ का राजगीत गाते हुए अपने हुनर का परिचय दिया। पारम्परिक परिधान में श्रद्धा छत्तीसगढ़ की संस्कृति का भी परिचय दे रहीं थीं। आपको बता दें कि हमारे राज्य से 4 प्रशिक्षु इस समय मसूरी में ट्रेनिंग ले रहे हैं, हर साल एकेडमी में इंडिया डे सेलिब्रेट किया जाता है. इस मौके पर विभन्न राज्यों से प्रक्षिक्षण लेने पहुँचे अधिकारियों ने अपने-अपने राज्यों की संस्कृति पेश की। श्रद्धा शुक्ला ने कहा कि मुझे इस मंच पर अपने प्रदेश की पहचान राजगीत गाने का मौका मिला, ये मेरे लिए अविस्मरणीय पल था।

आपको बता दें कि आईएस श्रद्धा शुक्ला छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की ही रहने वाली हैं। साल 2021 में यूपीएससी के रिजल्ट श्रद्धा के दादा जी के सपने को पूरा करने के लिए काफी था. लेकिन सिविल सर्विस की परीक्षा में श्रद्धा ने एक ऐसी लकीर खींच दी है. जो राज्य बनने के बाद अबतक नहीं हुआ है. छत्तीसगढ़ इससे पहले किसी महिला यूपीएससी टॉप 50 में जगह नहीं बनाई है. श्रद्धा छत्तीसगढ़ की पहली टॉपर है जिन्होंने देशभर में 45 वीं रैंक हासिल की है। वहीं आपको ये भी बता दें कि आईएएस श्रद्धा शुक्ला कांग्रेस संचार विभाग प्रमुख सुशिल आनंद शुक्ल की सुपुत्री हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button