छत्तीसगढ़जांजगीर चांंपा

झेरिया समाज के सम्मेलन में पहुंचे सीएम बघेल

जांजगीर

विगत वर्षों में केवल नगरी निकायों को स्मार्ट बनाने का प्रयास किया गया. हमारी सरकार ने घुरवा को स्मार्ट बनाकर गांवों के विकास के लिए योजना प्रारंभ की है. घुरवा को वैज्ञानिक तरीके से तैयार कर गोबर गैस प्लाण्ट स्थापित किया जाएगा. इससे प्राप्त गोबर गैस से खाना बनाने के लिए इंधन मिलेगा और किसानी के लिए उपजाऊ खाद भी उपलब्ध होगा. यह बात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को जांजगीर-चांपा जिले के नगर पंचायत डभरा में आयोजित छत्तीसगढ़ झेरिया धोबी बरेठ समाज के  राज्य स्तरीय युवक-युवती परिचय सम्मेलन के दौरान कही.

मुख्यमंत्री बघेल ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि बरेठ समाज के लोग परंपरागत व्यवसाय के साथ-साथ खेती किसानी भी कुशलता से करते है. राज्य सरकार की योजना के तहत किसानी कार्य को प्रोत्साहित किया जा रहा है. इस अवसर पर समाजिक स्मारिका एवं बाॅयलाज का विमोचन किया गया. मुख्यमंत्री ने लोगों की मांग पर मंगल भवन निर्माण के लिए 15 लाख रूपए की मंजूरी दी.

चंद्रनाहू कुर्मी समाज के कार्यक्रम में हुए शामिल

जांजगीर-चांपा जिले के प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री बघेल मालखरौदा विकासखण्ड के ग्राम सतगढ़ में छत्तीसगढ़ चन्द्रनाहू (चन्द्रा) कुर्मी समाज के 75वां वार्षिक  महा अधिवेशन में शामिल हुए. इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए बघेल ने कहा है छत्तीसगढ़ कृषि प्रधान राज्य है. यहां की 75 प्रतिशत आबादी कृषि पर निर्भर है. किसानों की समृद्धि के लिए उनसे 2500 रुपए प्रति क्विंटल दर से धान की खरीदी की गई है. छत्तीसगढ़ राज्य किसानों से 2500 रूपये प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदने वाला देश का प्रथम राज्य है. इस अवसर पर श्री बघेल ने चन्द्रनाहू कुर्मी समाज के सामाजिक बैठक, विचार-विमर्श आदि कार्य के लिए सामाजिक भवन निर्माण के लिए 15 लाख रूपये की घोषणा की. इसके पूर्व मुख्यमंत्री को लड्डू से तौलकर और महामाला पहनाकर भव्य स्वागत किया गया.

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button