खेल

हैदराबाद : आईपीएल 11: हैदराबाद से उसके घर में भिड़ेगी दिल्ली

हैदराबाद : दिल्ली डेयरडेविल्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें सीजन में आज सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ उसके घर राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में उतरेगी। दिल्ली को प्लेऑफ में जाने के लिए अपने बाकी के बचे सभी मैचों में जीत हासिल करनी होगी। दिल्ली की कमान जब से श्रेयस अय्यर के हाथों में आई है, उसके खेल में निश्चित ही बदलाव देखने को मिला है। युवा खिलाडिय़ों से सजी यह टीम आत्मविश्वास से भरपूर दिख रही है।

हैदराबाद के खिलाफ उसके घर राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में उतरेगी

सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ अपनी उम्र से ज्यादा परिपच्ता वाला प्रदर्शन कर रहे हैं। उनके साथ कोलिन मुनरो पारी की शुरुआत करने आते हैं। सलामी जोड़ी मजबूत होने के बाद टीम का मध्यक्रम भी मजबूत है। ऋषभ पंत इस सीजन में अच्छा खेल रहे हैं तो कप्तान अय्यर बल्ले से भी अपनी जिम्मेदारी को निभा रहे हैं। परेशानी इसके बाद शुरू होती है। अगर इन चार बल्लेबाजों में कोई भी सफल नहीं होता है तो दिल्ली की पारी बिखर जाती है। क्रिस मौरिस के जाने से टीम को नुकसान हुआ है।

सलामी जोड़ी मजबूत होने के बाद टीम का मध्यक्रम भी मजबूत है

उनके स्थान पर हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर को अहम भूमिका निभानी होगी जिसमें वो अभी तक सफल नहीं हुए हैं। ग्लैन मैक्सवेल के स्वाभाविक खेल का अभी तक सभी को इंतजार है।अय्यर इस मैच में मुनरो के स्थान पर इंग्लैंड के जेसन रॉय को टीम में शामिल कर सकते हैं। गेंदबाजी में ल्याम प्लंकट और मोहम्मद शमी पर बड़ी जिम्मेदारी होगी। लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने मौका मिलने पर अपनी उपयोगिता साबित की है। आवेश खान ने पिछले मैच में उन्हें निराश किया था। अय्यर उनको बाहर का रास्ता दिखा सकते हैं।

अय्यर इस मैच में मुनरो के स्थान पर इंग्लैंड के जेसन रॉय को टीम में शामिल कर सकते हैं

हैदराबाद की ताकत उसकी गेंदबाजी है। राशिद खान और शाकिब अल हसन की स्पिन जोड़ी की इसमें अहम भूमिका रही है। दोनों मध्य के ओवरों में बल्लेबाजों को न रन बनाने देते हैं और न ही उन्हें विकेट पर जमे रहने देते हैं।
तेज गेंदबाजी में कौल और बासिल थम्पी ने भुवनेश्वर की कमी नहीं खलने दी है। भुवनेश्वर चोट के कारण पिछले कुछ मैचों से बाहर हैं। वह खेलेंगे या नहीं इसका फैसला मैच से पहले ही चलेगा।

राशिद खान और शाकिब अल हसन की स्पिन जोड़ी की इसमें अहम भूमिका रही है

बल्लेबाजी में कप्तान केन विलियमसन टीम की धुरी बने हुए हैं। उन्हें हालांकि कोई ऐसा बल्लेबाज नहीं मिल रहा है जो अपने प्रदर्शन में निरंतरता रखते हुए टीम को संभाल सके। शिखर धवन का बल्ला शुरू के मैचों में तो चला लेकिन उसके बाद गब्बर खामोश हो गया।

बल्लेबाजी में कप्तान केन विलियमसन टीम की धुरी बने हुए हैं

मध्यम क्रम में मनीष पांडे, दीपक हुड्डा, यूसुफ पठान को जिम्मेदारी लेते हुए बेहतर प्रदर्शन करना होगा।
टीमें :
सनराइजर्स हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), शिखर धवन, मनीष पांडे, भुवनेश्वर कुमार, रिद्धिमान साहा, सिद्धार्थ कौल, दीपक हुड्डा, खलील अहमद, संदीप शर्मा, यूसुफ पठान, श्रीवत्स गोस्वामी, रिकी भुईए बासिल थम्पी, टी. नटराजन, सचिन बेबी, बिपुल शर्मा, मेहंदी हसन, तन्मय अग्रवाल, एलेक्स हेल्स, कार्लोस ब्रैथवेट, राशिद खान, शाकिब अल हसन, मोहम्मद नबी, क्रिस जॉर्डन।
दिल्ली डेयरडेविल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ग्लेन मैक्सवेल, अमित मिश्रा, शहबाज नदीम, विजय शंकर, राहुल तेवतिया, मोहम्मद शमी, गौतम गंभीर, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन मुनरो, क्रिस मौरिस, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, जैसन राय, नमन ओझा, पृथ्वी शाह, गुरकीरत सिंह मान, अवेश खान, अभिषेक शर्मा, जयंत यादव, हर्षल पटेल, मंजोत कालड़ा, संदीप लामीछाने, सायन घोष, लियाम प्लंकट, जूनियर डाला।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button