नारायणपुर : सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़

नारायणपुर : छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के अति संवेदनशील नक्सलगढ़ माने जाने वाले नारायणपुर जिले के अबुझमाढ़ इलाके में माओवादियों के माढ़ डिवीजन कुतूल एरिया कमेटी द्वारा इलाके में लगातार उपस्थिति की सूचना सुरक्षाबलों को मिल रही थी। जिसके बाद डीआरजी एवं एसडीएफ की संयुक्त सर्चिंग टीम ने कैम्प सोनपुर, आकाबेड़ा और धनोरा जैसे इलाकों में सर्चिंग कार्य को अंजाम दिया। सर्चिंग पार्टी को ग्राम गोटिंगपार, गुमरका, धुरबेड़ा, वकुड, कोडेनार, कोहनार, परपा, कुतूल, गट्टापाल, मरकूर, पदमकोट, कस्तुरमेटा, मापंगल, तोके, कोडलियार, मोहदी आदि गांव की सर्चिंग की।

ये खबर भी पढ़ें – नारायणपुर : 20 को होगी बस्तर बटालियन के लिए भर्ती

सुरक्षाबलों ने 21 अक्टूबर की दोपहर तोके और कोडनार के बीच अचानक जंगल की आड़ लेकर घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने अंधाधूंध फायरिंग करनी शुरू कर दी। जिसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्यवाही करते सैकड़ों की संख्या में उपस्थित नक्सलियों को भागने में मजबूर कर दिया। नक्सलियों के भागने के बाद सुरक्षाबलों की टीम ने सोनपुर कैम्प के ग्राम मापंगल व तोके की पहाड़ी में खोजबीन की।

ये खबर भी पढ़ें – नारायणपुर : पुलिस-नक्सली मुठभेड़, विस्फोटक बरामद

इस दौरान 315बोर राइफल, 12बोर राइफल, इंसान मैग्जीन, इनसान का जिंदा कारतूस, एसएल राइफल का मैग्जिन, 303 रायफल का जिन्दा कारतूस, कुकर बम, डेटोनेटर, केपिसिटर, केनवूड सेट 20 वॉट वाला, मोटोरोला सेट 02 वॉट वाला, मेनपेक सेट बैटरी, आईकाम डेस्कटॉप चार्जर, आईकाम एडाप्टर, मल्टीमीटर, हाईडिस्क, की-बोर्ड, नोकिया मोबाइल फोन, मल्टीमीटर लीड, सीडी, टेलीफोन, वायर, केपिसीटर, सर्किट बोर्ड, कोकोडाईल (चिमटा), एलईडी लाईट, रेडियो, आडियो विडियो, कन्वर्टर डिवाइस, चाकू, स्टील मग, चम्मच, पिट्टू बैग, छतरी, पोच, नक्सली वर्दी, कम्बल, साल, जैकेट, नक्सली बैनर, पानी जर्किंन, थाली, घुंघरू, जुता, चप्पल, दवाईयां, नक्सली साहित्य व अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *