विदेश से लौटते ही प्रियंका गांधी ने संभाली पार्टी महासचिव की जिम्मेदारी

नई दिल्ली.

लोकसभा चुनाव से पहले अपनी रणनीति तय करने में जुटे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अब महासचिव के तौर पर अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा का साथ मिलने जा रहा है. जनवरी माह में प्रियंका को पार्टी का महासचिव बनाए जाने के साथ पूर्वी उत्तर प्रदेश चुनाव की जिम्मेदारी दी गई है. मंगलवार को उनके कार्यभार संभालने के साथ 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में कमरा एलॉट कर उनकी नाम पट्टिका भी लगा दी गई है.

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को ही अपने बच्चे का इलाज कराने के बाद अमरिका से लौटकर आई हैं. भारत आने के साथ ही उन्होंने पार्टी की गतिविधियों में सक्रियता दिखानी शुरू करने कर दी है. इस कड़ी में मंगलवार को पहली बैठक पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ पश्चिम उत्तर प्रदेश का कमान संभाल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा उत्तर प्रदेश के नेताओं से होगी.

हालांकि, राहुल गांधी ने एक साक्षात्कार के जरिए स्पष्ट कर दिया है कि प्रियंका गांधी का दायरा केवल पूर्वी उत्तर प्रदेश तक की सिमटा नहीं होगा, बल्कि स्थिति-परिस्थिति के अनुसार, पूरे देश में उनकी भूमिका होगी.

कुंभ स्नान से शुरू होगा उप्र में अभियान

माना जा रहा है कि जिस तरह से पार्टी के प्रचार अभियान के दौरान भाई राहुल गांधी मंदिरों में पहुंचकर अपनी धार्मिक आस्था प्रकट करते रहे हैं, ठीक उसी तर्ज पर बहन प्रियंका गांधी भी उत्तर प्रदेश में अपने प्रचार अभियान की शुरूआत प्रयागराज में कुंभ स्नान के साथ करेंगी. इसके अलावा राजधानी लखनऊ के रमाबाई मैदान में 10 फरवरी को होने वाली कांग्रेस रैली में भी शामिल हो सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *