चुनावी चौपालदेश

इन नेताओं की जीत पक्की थी, लेकिन जानिये कि सबसे बड़ी जीत किसने हासिल की ?

यूपी विधानसभा चुनाव में में कुछ ऐसी सीटें हैं, जो कि हार जीत के आगे की हैं। यानी इन सीटों पर प्रत्याशियों की हार-जीत भविष्य की सियासत का ट्रेंड सेट करेगी। ऐसी ही कुछ सीटों के बारे में हम यहां आपको बताने जा रहे हैं.

गोरखपुर शहर

पहली बार विधायकी का चुनाव लड़े मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर शहर सीट से आसान जीत हासिल कर ली है। उन्होंने एक लाख से अधिक वोटों से सपा की प्रत्याशी सुभावती को हराया है। यहां योगी आदित्यनाथ को 154626 वोट, तो सपा की सुभावती को 57567 वोट ही मिले.

करहल

करहल से सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव जीत गए हैं। अखिलेश ने अपने प्रतिद्वंदी एसपी सिंह बघेल को करीब 65000 से ज्यादा मतों के अंतर से हराया है।अखिलेश यादव को यहां 147237, तो वहीं भाजपा एसपी सिंह बघेल को 80455 वोट मिले हैं.

नोएडा सीट

गौतमबुद्धनगर जिले में पंकज सिंह ने नोएडा सीट पर रिकॉर्ड जीत हासिल की है। उन्हें 2 लाख से ज्यादा वोट मिले हैं। उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी सपा प्रत्याशी सुनील चौधरी को 1.79 लाख वोटों से हराया है। यह अब तक की सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले अजीत पवार ने एक लाख 65 हजार वोटों से जीता था।

कुंडा

यहां जातीय समीकरण से अधिक रघुराज प्रताप सिंह के नाम पर चुनाव लड़ा जाता है। सिंधुजा यहां ‘गुंडा विहीन कुंडा’ के नारे के साथ सियासी मैदान में थीं। सपा के गुलशन ने राजा भैया को सीधी टक्कर दी थी। लेकिन लगातार 7वीं बार राज भैया यहां से जीत दर्ज कर चुके हैं । इस बार उन्होने बाहुबली नेता रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने 30 हजार से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज कर ली है. राजा भैया को 99261 वोट मिले, जबकि सपा के गुलशन यादव को 68843 वोट मिले हैं. आपको बता दें कि 1993 से कुंडा की सीट पर रघुराज प्रताप सिंह जीतते आ रहे हैं। इससे पहले एक बार भाजपा और दो बार कांग्रेस के पाले में ये सीट जा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button