छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

कभी सब-इंस्पेक्टर से छेड़छाड़ में बर्खास्त हुए थे यह पुलिस अधिकारी,आज ज़ुम्बा करके दे रहे हैं फिटनेस का मन्त्र

सब-इंस्पेक्टर से छेड़छाड़

नमस्कार दोस्तों, फोर्थ आई न्यूज़ में आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है। दोस्तों आज हम आपको एक ऐसे पुलिस अधिकारी के बारे में बताने जा रहे हैं जो इन दिनों अपने डांसिंग स्टेप्स के चलते सुर्ख़ियों में हैं। मगर एक समय ऐसा भी था जब यह अलनी ऊपर लगे बदनामी के दाग के चलते करीब 3 साल तक बर्खास्त रहे। यह अधिकारी हैं AIG संजय शर्मा। इनका डांस देखकर लोगों के चेहरे पर मुस्कान आ रही है। एक वीडियो में अफसर दिल खोलकर डांस करते दिख रहे हैं। AIG संजय शर्मा इसमें अलग अंदाज में नजर आ रहे हैं इनके मूव्स लोगों को फिटनेस के प्रति इंस्पायर कर रहे हैं।

AIG संजय शर्मा का जो ताज़ा वीडियो सामने आया है वो राजधानी रायपुर के तेलीबांधा तालाब का है। तालाब के किनारे AIG डांस करते हुए अपने डांस स्टेप्स औरों को भी सिखाते दिख रहे हैं। उनके डांस स्टेप्स सामने मौजूद गर्ल्स भी फॉलो कर रही हैं। अफसर का ये डांस असल में एक म्यूजिक फिटनेस सेशन था। इसे खुद AIG ही लीड कर रहे थे। दरअसल हाल ही में शहर में तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम ने एक फिटनेस प्रोग्राम आयोजित किया था। इसमें सुबह-सुबह साइक्लिंग, पैदल वॉक और एक्सरसाइज करने के लिए लोगों को मोटिवेट किया गया। रायपुर में भी तेलीबांधा तालाब के किनारे ये कार्यक्रम हुआ। इसमें कई जन प्रतिनिधी और सरकारी विभाग के अधिकारी कर्मचारी शामिल हुए थे। ये कार्यक्रम एक साथ पूरे देश में किया गया था।

AIG संजय शर्मा अभी तो अपने डांस से खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं मगर एक समय ऐसा भी था जब वो अपने ऊपर लगे एक दाग से खूब ख़बरों में थे। बात साल 2015 के शुरुआत की है। उस समय हमारे प्रदेश में डॉ रमन सिंह के नेतृत्व में बीजेपी का शासन था। तभी खबर आई कि AIG संजय शर्मा ने एक महिला सब-इंस्पेक्टर के साथ, महिला सब इंस्पेक्टर ने आरोप लगाया था कि एआईजी संजय शर्मा ने छेड़छाड़ की। शिकायत के मुताबिक लिफ्ट को रोककर महिला के साथ दुर्व्यवहार किया गया। महिला सब इंस्पेक्टर ने अपनी शिकायत में यह भी कहा था कि संजय शर्मा उनको लगातार अश्लील एसएमएस भेजते थे। यही नहीं, दफ्तर में कई बार भद्दी टिप्पणी भी करते थे।

संजय शर्मा के खिलाफ डीआईजी प्रशासन सोनल मिश्रा की अध्यक्षता में जांच समिति बनाई गई थी। डीआईजी मिश्रा ने जांच रिपोर्ट आला अधिकारियों को जुलाई 2015 में सौंप दी। रिपोर्ट आने के बाद शर्मा को अगस्त 2015 को बर्खास्त कर दिया गया। गृह विभाग के उप सचिव डीके माथुर ने यह आदेश आंतरिक शिकायत समिति के जांच प्रतिवेदन के आधार पर जारी किया। समिति की जांच रिपोर्ट में 7 अप्रैल 2015 को महिला कर्मचारी से एआईजी शर्मा के छेड़छाड़ की पुष्टि की गई।

कार्रवाई के विरोध में संजय शर्मा ने राज्यपाल को पत्र लिखकर पूरे मामले में सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की अपील की थी। जिसके बाद मामला रमन मंत्रीमंडल में पेश किया गया। बाद में मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय उप समिति गठित की गई। इसमें अजय चंद्राकर और रमशीला साहू को सदस्य बनाया था। उप समिति की पहली बैठक में सदस्य रमशीला साहू ने बहाली किए जाने की सिफारिश पर यह कहते हुए विरोध किया था कि वर्दी पहनने वालों को वर्दी की गरिमा का ख्याल रखना चाहिए, ऐसे संवेदनशील मामलों पर यदि राहत दी गई तो इससे सरकार की छवि पर बुरा असर पड़ सकता है।

फिर महिला एएसआई से छेड़छाड़ के मामले में 2015-2018 तक बर्खास्त चल रहे एआईजी संजय शर्मा को छत्तीसगढ़ की पूर्ववर्ती रमन सरकार ने बहाल कर दिया। मंत्रिमंडलीय उप समिति की रिपोर्ट के बाद रमन मंत्रीमंडल ने तीन वेतनवृद्धि रोके जाने की सजा के साथ उनकी यह बहाली की थी। इस मामले की जांच कर रही समिति ने उस समय अपनी रिपोर्ट में आरोपों को प्रमाणित कर कार्रवाई किए जाने की सिफारिश की थी। अब AIG संजय शर्मा फूल फॉर्म में ड्यूटी तो कर ही रहे हैं लेकिन अब अपने डांस के जलवे भी बिखेर रहे हैं। बहरहाल, AIG संजय शर्मा का यह डांस आपको कितना पसंद आया और उनपर जो संगीन आरोप लगे थे उसपर आपकी क्या राय है ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button