विद्या मितान शिक्षक हड़ताल का 47 दिन है 16 दिसंबर को मुख्यमंत्री निवास घेराव करेगी

अपनी मांगों को लेकर छत्तीसगढ़ में विद्या मितान शिक्षक 47 दिन से आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है. उनका कहना है कि विगत पांच वर्षों से विद्या मितान शिक्षक राज्य के विभिन्न शासकीय शालाओं में अपनी सेवाएं दे रहे है । वे कहते हैं कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष माननीय भूपेश बघेल और तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव एवं कांग्रेस के विभिन्न विधायकों ने आश्वासन दिया था कि छत्तीसगढ़ राज्य में अगर कांग्रेस सरकार सत्ता में आती है तो उन्हें नियमित किया जाएगा, लेकिन अबतक ऐसा नहीं हो सका है, जबकि सरकार को दो साल पूरा हो चुका है ।

आंदोलनकारियों का कहना है कि छत्तीसगढ़ के मूल निवासी विद्या मितान शिक्षक जो अपनी सेवाएँ शिक्षा सत्र 2016 से वर्तमान तक दे रहे है, उनको नियमित किया जाएगा, किंतु कांग्रेस पार्टी को सत्ता में आए लगा साल हो चुका है अभी तक विद्या मितान शिक्षकों को नियमित नहीं किया गया है, अपितु कांग्रेस सरकार द्वारा अतिथि शिक्षक योजना प्रारंभ करके विद्या मितान शिक्षकों का सरंक्षण मंत्री परिषद के निर्णय अनुसार किया गया है किंतु 300 विद्या मितान शिक्षकों को बेरोजगार कर दिया गया है ।

उन्होने कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण के कारण विगत 7 माह से 2300 अतिथि शिक्षकों को भी बेरोजगार कर दिया गया है, जिससे सभी विद्या मितान शिक्षकों के समक्ष जीविकोपार्जन की विकराल समस्या आ चुकी है, जिससे सभी विद्या मितान शिक्षक क्षुब्ध होकर अपनी मांगों को लेकर 45 दिन से आंदोलन कर रहे हैं । फिर भी सरकार का कोई भी प्रतिनिधि आज तक हड़ताल में नही पहुचे है, और मिल रहा है तो मुख्यमंत्री के मुख से आस्वाशन की जैसे ही स्कूल खुलेगा तो आपको एडजेस्ट कर देंगे लेकिन ये कैसी एडजेस्ट है यह हमें समझ मे नही आ रहा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button