मौत से पहले क्या कर रहेे थे रोहित सरदाना ?

आजतक के मशहूर पत्रकार रोहित सरदाना का आज निधन हो गया. उनके इस निधन के बाद पूरे देश में शोक की लहर है, उनके निधन से हर कोई स्तब्ध हो गया है । लेकिन कोरोना संक्रमित होने के बावजूद रोहित एक दिन पहले तक ट्विटर पर लोगों की मदद के लिए सक्रिय थे. कोरोना के शिकार हुए लोगों के इलाज के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, बेड आदि तक की व्यवस्था के लिए वह लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव थे और लोगों से सहयोग की अपील कर रहे थे.
यहां तक कि अपनी मौत से ठीक एक दिन पहले 29 अप्रैल को भी उन्होंने ट्वीट कर एक महिला के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शनों की व्यवस्था करने की अपील की थी. इससे पहले 28 अप्रैल को उन्होंने लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की भी अपील की थी.
रोहित सरदाना की हिंदी भाषा पर बहुत अच्छी पकड़ थी. साल 2018 में रोहित सरदाना को गणेश विद्यार्थी अवॉर्ड से नवाजा गया था. वो एक जुनूनी पत्रकार थे और डिबेट को भी एंजॉय करते थे. सोशल मीडिया पर उनको लगातार श्रद्धांजलि दी जा रही है.अपने सवालों और बोलने के तरीकों से लोगों के दिलों में बसते थे.
रोहित सरदाना ने एक ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘जितनी तादाद में कोरोना से मरीज़ ठीक हो रहे हैं उसके एक चौथाई लोग भी अगर प्लाज़्मा डोनेट करने के लिए आगे आने लगें, तो बहुत से लोगों की जान बच सकती है. आप ठीक हो गए हैं, तो किसी और की ज़िंदगी की वजह बनिए. प्लाज़्मा डोनेट कीजिए!’ हालांकि अब खुद रोहित सरदाना की ही अचानक मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है. लंबे समय तक जी न्यूज चैनल में काम करने के बाद बीते कुछ सालों से वह आज तक चैनल का हिस्सा थे. उनका न्यूज शो दंगल काफी लोकप्रिय था, जिसकी वह एंकरिंग करते थे.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनकी मौत पर संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने कहा, ‘रोहित सरदाना ने हमें बहुत जल्द छोड़ दिया. ऊर्जा से भरपूर, भारत की प्रगति को लेकर अग्रसर, एक अच्छे इंसान को हमनें खो दिया. उनके असामयिक निधन ने मीडिया जगत में एक बहुत बड़ी जगह खाली कर दी है. उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना.शांति.’
रोहित सरदाना के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी शोक जताया. उन्होंने लिखा, ”वरिष्ठ पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी का निधन अत्यंत दुःखद है. वह जनपक्षीय पत्रकारिता के अप्रतिम हस्ताक्षर थे. प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि वह दिवंगत आत्मा को शान्ति व शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें. ॐ शांति”

ये खबर भी पढ़ें – क्या MP बोर्ड की कक्षा 9वीं और 11वीं के Result 15 मई तक जारी होंगे? पढ़िये पूरी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button