विदिशामध्यप्रदेश

विरोध को गेंहू के बोरे, और FiR से दबाने की कोशिश ? विधायक पति पर, घायल छात्र के गंभीर आरोप

घायल छात्र का वीडियो वायरल, विधायक पति पर लगाया लालच देना का आरोप

विदिशा/गंजबासौदा – नगर में इनदिनों विधायक पति के विवाद बड़ी चर्चा में हैं, विधायक पति इस बार किसी विरोधी पार्टी के नेता से नहीं, बल्कि एक छात्र संगठन से उलझ गए हैं । दरअसल विधायक पति की कथित बदसलूकी के खिलाफ शहर के मां सरस्वती छात्र संगठन ने गंभीर आरोप लगाए हैं ।

क्या है मामला ?

संगठन के अध्य्क्ष निखिल राजपूत ने बताया कि विधायक पति संजय जैन टप्पू (Sanjay Jain Tappu) के घर के सामने भारता माता का उद्घोष करने पर वे नाराज हो गए थे। इसके बाद उन्होने संगठन के सदस्यों के साथ बुरा वर्ताव की किया और भारत माता का अपमान किया है, इसका वे विरोध कर रहे हैं ।

कैसे किया संगठन ने विरोध ?

sanjay jai tappu ganj basoda mla leena jain

विधायक पति की कथित बदसलूकी के खिलाफ संगठन के साथ ही शिवसेना और राजपूत करणी ने विरोध प्रदर्शन किया था । इस दौरान उन्होने विधायक पति का पुतला भी फूंका था, इस दौरान उनके संगठन का एक कार्यकर्ता घायल हो गया था, जिसका इलाज संगठन ने अपने खर्च पर कराया ।

‘घायल कार्यकर्ता पर डाला जा रहा है दवाब’

मां सरस्वती छात्र संगठन के अध्यक्ष निखिल राजपूत और श्री राजपूत करणी सेना के जिला अध्यक्ष ने बताया कि घायल छात्र पर पुलिस दवाब डाल रही है । उन्होने बताया कि घायल कार्यकर्ता से जबरन संगठन के लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिये दवाब बनाया जा रहा है । उनके मुताबिक घायल कार्यकर्ता को एक बोरा गेंहू देना का लालच विधायक पति द्वारा दिया गया है । जिसके बारे में खुद घायल युवक ने बताया । इसका वीडियो भी उनके द्वारा बनाया गया है ।

घायल छात्र का वायरल वीडियो, सुनिये विधायक पति पर क्या आरोप लगाए

‘भले जेल जाना पड़े, विरोध जारी रहेगा’

मां सरस्वती छात्र संगठन, शिवसेना और राजपूत करणी सेना ने ऐलान किया है कि भले ही, विधायक पति के दवाब पुलिस उनके खिलाफ षड़यंत्र कर रही है और एफआईआर दर्ज करे, लेकिन भारत मां की खातिर हम लगातार संघर्ष करेंगे । और देश और भारत माता का अपमान करने वाले विधायक पति जबतक माफी नहीं मांगगे वे अपना विरोध जारी रखेंगे । फिर चाहे जेल ही क्यों न जाना पड़े ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button