9 महीने के बच्चे को पोषण पुनर्वास केंद्र से ले गई मां, कहा- यहां न खाना मिलता है और न ही डॉक्टर आते हैं

उमरिया : जिला अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती अतिकुपोषित बच्चे 9 महीने के नरेंद्र को उसकी मां रमंती बैगा तीन दिन बाद ही वापस घर ले गई। बच्चे को इसी सप्ताह जिला अस्पताल स्थित पोषण पुर्नवास केंद्र में भर्ती किया गया था। उसका कहना है कि डॉक्टर भी नियमित नहीं आते। शरीर में हाथ, पैर का मांस चिपकता जा रहा है।

जिला मुख्यालय से तकरीबन 20 किमी दूर कोहका गांव में केस लाल बैगा के बेटे नरेंद्र का वजन मात्र तीन किलो है। जबकि 9 माह के शिशु का वजन 9.2 किलो होना चाहिए। कुपोषित बच्चे की हालत दिनों-दिन खराब होती जा रही है। केंद्र में भरपेट खाना नहीं दिया जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button