रायपुरछत्तीसगढ़बड़ी खबरें

भानुप्रतापपुर उपचुनाव में बड़ा अपडेट जेसीसीजे ने किया कांग्रेस प्रत्याशी का समर्थन

भानुप्रतापपुर उपचुनाव

भानूप्रतापपुर उपचुनाव जहां कांग्रेस और भाजपा की साख का विषय बना हुआ है वहीं छत्तीसगढ़ का एक राजनीतिक दल ऐसा भी है जिसने चुनाव में अपना खुद का प्रत्याशी नहीं उतारा बल्कि सत्तारूढ़ पार्टी को अपना खुलकर समर्थन दिया है। जी हां, यह दल है क्षेत्रीय राजनीतिक दल जोगी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़। जेसीसीजे के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि भानूप्रतापपुर उपचुनाव में जोगी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ भले ही अपना कोई प्रत्याशी ना उतार रही हो लेकिन वह इस उपचुनाव में भाजपा के विरुद्ध है और अपना समर्थन कांग्रेस प्रत्याशी सावित्री मंडावी को देने जा रही है दिलचस्प बात यहां पर यह है कि अमित जोगी और उनके पिता स्वर्गीय अजीत जोगी एक समय कांग्रेस पार्टी का ही हिस्सा थे अजीत जोगी कांग्रेस से ही छत्तीसगढ़ राज्य गठन के बाद यहां के पहले मुख्यमंत्री बने थे।

2016 में पार्टी से मतभेद और अमित जोगी को पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद स्व अजित जोगी ने जोगी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की स्थापना की और उसके बाद से 2018 का चुनाव भी इसी पार्टी से लड़ा था। बसपा के साथ गठबंधन करके। लेकिन कांग्रेस में जाने या किसी प्रत्याशी को समर्थन देने की संभावना से साफ इंकार कर दिया था। अजीत जोगी का निधन कार्डियक अरेस्ट के चलते सन 2020 में हो गया था उसके बाद से ही पार्टी में दिग्गजों के साथ छोड़ने का सिलसिला शुरू हो गया था।

कहा यह भी गया कि अमित जोगी की पार्टी अब कमजोर हो रही है लेकिन इन सबके बीच अमित जोगी ने बड़ा दांव चलते हुए स्वर्गीय मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी को चुनाव में जिस तरह से अपनी पार्टी का समर्थन देने का ऐलान किया है इसके कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। अमित जोगी ने इसपर कहा है कि जोगी परिवार के मंडावी परिवार से अत्याधिक पारिवारिक संबंध रहे हैं और स्वर्गीय मनोज मंडावी के स्वर्गवास के बाद उनके सम्मान में सावित्री भाभी के विरुद्ध प्रत्याशी खड़ा करने का सवाल ही नहिज उठता। पार्टी के सभी कार्यकर्ता सावित्री मंडावी को प्रचंड बहुमत से जिताने के लिए काम करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button