असम-पश्चिम बंगाल में बंपर वोटिंग, बढ़ी सियासी दलों की धड़कनें

बंगाल में 1 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान होगा

पश्चिम बंगाल और असम विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए वोटिंग पूरी हो चुकी है । और इस वोटिंग ने सियासी दलों की धड़कनों को बढ़ा दिया है । क्योंकि मतदान के महापर्व में दोनों ही राज्यों के लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया है ।

असम में शाम छह बजे वोटिंग खत्म हो गई । लेकिन बंगाल में कई मतदान केंद्रों पर इसके बाद भी लाइन लगी रही, जिससे वोटिंग का प्रतिशत और बढ़ने की संभावना है । शाम को 6 बजे तक चुनाव आयोग के मुताबिक, असम में 72.14 फीसदी वोटिंग हुई । जबकि पश्चिम बंगाल में 79.79 फीसदी वोट पड़े हैं जो अपने आप में रिकॉर्ड है ।

ये खबर भी पढ़ें – पश्चिम बंगाल के सर्वे में किसकी बन रही है सरकार ?

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में पहले चरण के दौरान 30 सीटों पर वोटिंग हुई है जबकि असम में 47 विधानसभा सीटों पर आज वोट डाले गए हैं । हालांकि आज बंगाल से कई जगहों से छिटपुट हिंसा की भी खबर आती रही, लेकिन कोई बड़ी घटना नहीं हुई ।

कांथी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी के भाई सौमेंदु अधिकारी की कार पर हमला हो गया । जिसकी वजह से उनकी कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है. हालांकि हमले के समय सौमेंदु कार में नहीं थे. लेकिन उनके कार ड्राइवर को चोट आई है.

सौमेंदु ने इस हमले के लिए टीएमसी को जिम्मेदार बताया है । बीजेपी नेता सौमेंदु अधिकारी ने कहा, “टीएमसी ब्लॉक अध्यक्ष राम गोविंद दास और उनकी पत्नी की अगुवाई में तीन मतदान केंद्रों में धांधली हो रही है. इसकी खबर मिलने के बाद मैं वहां पहुंचा, और मेरे उनके काम बाधा आ गई. इसलिए उन्होंने मेरी कार पर हमला किया और मेरे ड्राइवर की पिटाई की.”

बंगाल में 8 चरणों में वोटिंग

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में मतदान होने जा रहे हैं ।  बंगाल में 27 मार्च को पहले चरण, 1 अप्रैल को दूसरा,  6 अप्रैल को तीसरा, 10 अप्रैल को चौथा, 17 अप्रैल को पांचवां, 19 अप्रैल को छंठवां, जबकि 22 अप्रैल को सातवें चरण की वोटिंग के बाद 26 अप्रैल को आखिरी यानी आठवें चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होगी। जबकि 2 मई को नतीजे आएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button