छत्तीसगढ़

अंगना में शिक्षा कार्यक्रम हर्षोल्लास के साथ सिवनी खुर्द में संपन्न

कवर्धा। शासकीय प्राथमिक शाला सिवनी खुर्द, रामपुर, रेंगाखार कला, लावा, मुढ़ीपार, बरेंडा, मोहनटोला, खम्हरिया, गर्राटोला आदि स्कूलों में अँगना में शिक्षा 2.0 कार्यक्रम का सफल आयोजन हुआ शासन व प्रशासन के मंशानुरूप शिक्षा विभाग द्वारा छात्रों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने में माताओ व महिलाओं का विशेष योगदान रहे को ध्यान में रखकर अँगना में शिक्षा 2.0 जिसमे 5 वर्ष से 8 वर्ष यानी कक्षा पहली से तीसरी के बच्चों व उनके माताओ को प्रमुखता से रखा गया था। जिला शिक्षा अधिकारी राकेश पांडे, सहायक संचालक महेंद्र गुप्ता के मंशानुरूप व ब्लाक शिक्षा अधिकारी ए. के. सहारे, सहायक ब्लाक शिक्षा अधिकारी के. के. नायक व क्षत्री जी के कुशल मार्गदर्शन में अँगना में शिक्षा 2.0 कार्यक्रम को सफल बनाने में पूरी मेहनत लगाने वाले प्राचार्य हायर सेकेंडरी स्कूल रेंगाखार एफ. एस. मेरावी के रेखदेख में व संकुल प्रभारी मन्तलाल मरकाम, साहादुर तलवारे, प्रधान पाठक कमल दास मुरचले के लग्न से गरिमामयी व गुणवत्तापूर्ण सम्पन्न कराया गया। अँगना में शिक्षा कार्यक्रम के माध्यम से सीधे महिलाओं को स्कूलों से जोड़ने व छात्रों की गुणवत्ता जांच में महिलाओं की पूर्ण भागीदारी रहे इस कारण यह कार्यक्रम प्रत्येक स्कूलों में उत्साह पूर्ण समपन्न कराए जा रहे है। उत्कृष्ट माताओ में प्रथम स्थान कुमारी भारती कक्षा तीसरी की माँ बबली अलकरे द्वितीय स्थान छात्र तुषार कक्षा दूसरी की माँ कांता बाई साहू व तृतीय स्थान कुमारी पायल कक्षा पहली की माँ बुधिया बाई साण्डे को सबके उपस्तिथि में चुना गया और उन्हें सम्मान स्वरूप शिर पे ताज और विजेता पट्टी बांधकर पेन और रामायण ग्रंथ पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। और अँगना में शिक्षा 2.0 कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी छात्र छात्राओं व माताएं को पेन देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को ग्राम पंचायत के सरपंच विमला यशवंत पालके व प्रधान पाठक अनिता मुरचले के साथ उपस्थित सभी माताओ के द्वारा माँ सरस्वती की पूजा अर्चना कर दीपप्रज्वलन कर प्रारम्भ किया गया। कार्यक्रम में सरपंच विमला यशवंत पालके, माताएं अनिता पटेल, राधा साहू, मथुरा अलकरे, सुनीता पटेल, हंसा तलवारे, सीमा धुर्वे, सारिका पटेल, कंचन बिलसरे, लता साण्डे, धुपन बाई यादव, कांता बाई साहू, बुधिया बाई साण्डे, शुभिया बाई अलकरे, अनिता साण्डे, ओमबति, श्रुति यादव, जानकी साहू, भगवति पटेल, बबली अलकरे, इमला बाई साहू, पुष्पा मरकाम, उषा मेरावी, श्यामबति साहू आदि माताए व महिलाओं ने हिस्सा लिए और सफल बनायें। कार्यक्रम को सफल बनाने में सभी प्रधान पाठ, शिक्षक शिक्षिकाएँ व रसोइया और सफाई कर्मचारियों का योगदान सराहनीय रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button