छत्तीसगढ़महासमुंद

महासमुंद: आसमान से बरस रही है आग ! पारा 44 पार

महासमुंद, तेज गर्मी वाला महीना जेठ लगने में अभी पांच दिन बाकी है, पर आसमान से बरस रही आग लोगों को जेठ की गर्मी का एहसास करा रही है। दिन का तापमान जहां 44 डिग्री के पास और रात का तापमान करीब 35 डिग्री के करीब है। तापमान अधिक होने के कारण लोग गर्म हवा के थपेड़ों से परेशान हैं.

आगामी तीन दिनों बाद 25 मई से नवतपा प्रारंभ होने वाला है जिसे लेकर लोग अभी से परेशान हैं। वर्तमान में जिस हिसाब से गर्मी पड़ रही है उससे लोग यही अंदाजा लगा रहे हैं कि इस बार नवतपा में और अधिक गर्मी पड़ेगी। तापमान में लगातार उतार-चढ़ाव का दौर जारी है जिससेइसका असर लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है.

ये खबर भी पढ़ें AC वाली बग्घी, गर्मी में नहीं छूटेगा दूल्हे को पसीना

जिला अस्पताल में मौसम के असर से प्रभावित मरीज उपचार कराने पहुंच रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग बढ़ रही गर्मी में लू से बचने के लिए लोगों से सावधानियां बरतने की अपील कर रहा है। अब तक लू के दो मरीज  लू के दो मरीज अब तक सामने आ चुके हैं। हालांकि उपचार के बाद उक्त मरीजों की छुट्टी भी हो गई है.

गर्मी से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें अगर आप भी गर्मी में खाते हैं ये सब तो हो जाएं सावधान

अस्पताल में लू से पीडि़तों के लिए अलग वार्ड बनाया गया है। जहां उपचार की समुचित व्यवस्था की गई है। स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से अपील की है कि सिर में भारीपन और दर्द लू के लक्षण हैं। तेज बुखार के साथ मुंह सूखना, चक्कर और उल्टी आना, कमजोरी के साथ बदन दर्द होना, शरीर का तापमान अधिक होने के बावजूद पसीना न आना, अधिक प्यास लगना एवं पेशाब कम आना, भूख कम लगना तथा बेहोश होना लू के लक्षणों में शामिल हैं.

इस तरह के लक्षण दिखने पर तत्काल अस्पताल जाकर स्वास्थ्य परीक्षण कराएं। लू से बचने के लिए अधिक मात्रा में पानी पिएं और धूप में निकलने से पहले सिर व कानों को कपड़े से अच्छी तरह बांध लें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button