ममता बेनर्जी को याद आया अपना गोत्र, खुद को बताया शांडिल्य ब्राह्मण

पश्चिम बंगाल में चुनाव की गर्मी अपने चरण पर है । कल यानि एक अप्रैल को विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत वोटिंग होनी है । इस चरण में सबसे हॉट सीट नंदीग्राम में भी वोटिंग होगी। इस सीट पर सीएम ममता बनर्जी और टीएमसी से बीजेपी में आए शुभेंदु अधिकारी के बीच कड़ी टक्कर मानी जा रही है। इस बीच ममता बेनर्जी ने वोटिंग से ठीक पहले एक और बड़ा दांव खेला है ।

ममता बनर्जी ने खुद को शांडिल्य ब्राह्मण बताया है। उन्होंने कहा कि वो उनका गोत्र मां माटी मानुष है । लेकिन असल में वो शांडिल्य हैं। उन्होंने कहा कि वो चुनावी प्रचार अभियान के दौरान एक मंदिर गई थी, जहां पुजारी ने मेरा गोत्र पूछा। जिसपर मैने पंडित जी को जवाब दिया कि मां, माटी और मानुष । इसके बाद ममता बेनर्जी ने कहा कि असल में मैं शांडिल्य ब्राह्मण हूं।

इधर बीजेपी ने ममता बनर्जी के इस बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि हार के डर की वजह से ममता बनर्जी को अपना गोत्र याद आया है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि ‘चुनाव हारने के डर से ममता दीदी अपना गोत्र बता रही हैं। दीदी, मुझे बताइए अगर रोहिंग्या और घुसपैठियों का गोत्र शांडिल्य निकला तो?’ उन्होंने आगे कहा कि बंगाल की मुख्यमंत्री डर गई हैं, इसलिए सुवेंदु अधिकारी और अन्य बीजेपी कार्यकर्ताओं पर गोत्र के बहाने हमले करवाती रहती हैं।

नंदीग्राम में वोटिंग से पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गोत्र का नया दांव माना जा रहा है। आपको बता दें कि नंदीग्राम में मंगलवार शाम 5 बजे चुनाव प्रचार खत्म हो गया। नंदीग्राम सीट पर विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में कल यानी 1 अप्रैल को वोटिंग होगी। यहां ममता बनर्जी की टक्कर उनकी ही पार्टी से बीजेपी में गए शुभेंदु अधिकारी से है।

ये खबर भी पढ़िए-अब 01 अप्रैल 2021 से नहीं चलेगी इन 7 बैंकों की पासबुक और चेकबुक,पढ़िये पूरी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button