मुंबई : पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस में कंट्रोलिंग स्टेक के लिए एचडीएफसी, केएमबी में होड़

मुंबई : पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस में कंट्रोलिंग स्टेक लेने के लिए हाउजिंग डिवेलपमेंट फाइनैंस कॉर्प और कोटक महिंद्रा बैंक में जोर-आजमाइश चल रही है। मामले की जानकारी रखने वालों ने बताया कि दोनों ही ऐसे मॉर्गेज मार्केट में बड़ा कवरेज हासिल करना चाहते हैं, जिसे लेंडिंग कारोबार में बेहद सुरक्षित माना जाता है।

प्रमोटरों पंजाब नैशनल बैंक और कार्लाइल के पास पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस में करीब 66 पर्सेंट हिस्सा है। वे किसी बड़े निवेशक को अपना हिस्सा बेचना चाहते हैं। सूत्रों ने बताया कि इस डील से दोनों प्रमोटरों को 6-6 हजार करोड़ रुपये मिल सकते हैं। लिस्टेड पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस का मार्केट कैप 17939 करोड़ रुपये है।

एक सूत्र ने बताया, एचडीएफसी और कोटक बैंक ने पिछले सप्ताह पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस के मैनेजमेंट के साथ मीटिंग की थी। उसमें पीई फंड कार्लाइल का समूचा करीब 33 पर्सेंट हिस्सा और पीएनबी से 33 पर्सेंट हिस्सा खरीदने पर बातचीत हुई थी।

बताया जा रहा है कि कार्लाइल ने इस डील के लिए मॉर्गन स्टेनली को एडवाइजर बनाया है, वहीं पीएनबी यह रोल एक इनवेस्टमेंट बैंक को देने जा रहा है। तीसरी बड़ी शेयरहोल्डर जनरल अटलांटिक को भी पीएनबी और कार्लाइल ने स्टेक सेल की जानकारी दी है।

नवंबर 2017 में पीएनबी ने जनरल अटलांटिक सिंगापुर फंड सहित निवेशकों को 6 पर्सेंट हिस्सा बेचा था। दूसरे निवेशकों में बिड़ला सनलाइफ एमएफ, मोतीलाल ओसवाल एमएफ, वसाच, टी रो प्राइस, सिंगापुर सरकार, फिडेलिटी, इनवेस्को, रिलायंस एमएफ और नोमुरा एसेट मैनेजमेंट शामिल थे।

कोटक और एचडीएफसी ने कहा कि वे मार्केट की अटकल पर कॉमेंट नहीं करना चाहते हैं। बताया जा रहा है कि एचडीएफसी इससे पहले केनफिन होम्स में कंट्रोलिंग स्टेक लेना चाहती थी, लेकिन प्रमोटरों का मन बदल गया था। एचडीएफसी ने अफोर्डेबल हाउजिंग सेगमेंट में कारोबार बढ़ाने के लिए 13000 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस डील हुई तो कंट्रोलिंग स्टेक लेने वाले को टेकओवर रूल्स के तहत अतिरिक्त हिस्सेदारी के लिए ओपन ऑफर लाना होगा। इसी महीने पीएनबी ने स्टॉक एक्सचेंज को बताया था कि पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस, इकरा, क्रिसिल और बीएसई में हिस्सा बेचने का निर्णय मार्केट की स्थितियों के आधार पर उचित समय पर किया जाएगा।

पीएनबी हाउजिंग फाइनैंस की उत्तर, दक्षिण और पश्चिम भारत में 84 शाखाएं हैं। इसके कारोबार का 70 पर्सेंट हिस्सा मॉर्गेज का है। इसका शेयर शुक्रवार को बीएसई पर 1071.35 रुपये पर बंद हुआ था। इसकी लिस्टिंग नवंबर 2016 में हुई थी। तबसे इसकी मार्केट वैल्यू लगभग दोगुनी हो चुकी है।

ये भी खबरें पढ़ें – मुंबई : सेंसेक्स लाइव टुडे: गिरावट के साथ खुला सेंसेक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *