नईदिल्ली : आर्थिक आंकड़ों,कच्चा तेल,रुपये की चाल पर रहेगी नजर

नई दिल्ली : इस सप्ताह जारी होने वाले घरेलू विदेशी समष्टिगत आर्थिक आंकड़ों से शेयर बाजार की चाल तय होगी। इसके अलावा प्रमुख विदेशी शेयर बजारों से मिलने वाले संकेत, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों के साथ-साथ डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल का भी भारतीय शेयर बाजार पर असर देखने को मिलेगा। वहीं, घरेलू बाजार में ऑटो कंपनियां बीते महीने जून में हुई बिक्री के आंकड़े सप्ताह की शुरुआत में जारी करेंगी।

भारतीय शेयर बाजार पर असर

मार्किट इकॉनोमिक्स द्वारा भारत के विनिर्माण क्षेत्र के जून के आंकड़े सोमवार को जारी होने वाली है। निक्की इंडिया मैन्यु फैक्चरिंग परचेजिंग मैनेजर्स (पीएमआई) इंडेक्स मई 2018 में अप्रैल के 51.6 से गिरकर 51.2 पर आ गया था। मार्किट इकॉनोमिक्स जून के सेवा क्षेत्र की रिपोर्ट बुधवार को जारी करेगा। निक्की सर्विस पीएमआई मई में गिरावट के साथ 49.6 पर रहा था, जबकि अप्रैल में 51.4 था।

51.6 से गिरकर 51.2 पर आ गया

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों के निवेश से शेयर बाजार को दिशा मिलेगी। वहीं, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों पर भी निवेशकों की नजर होगी। पिछले सप्ताह कच्चे तेल के दाम में तेजी देखी गई, मगर ओपेक द्वारा तेल की आपूर्ति में बढ़ोतरी के फैसले के बाद कीमतों में गिरावट की उम्मीद की जा रही थी।

निवेशकों की नजर होगी

वैश्विक स्तर पर काइक्सिन चाइना मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई के जून की रिपोर्ट सोमवार को जारी हो सकती है। पिछले महीने मई में पीएमआई 51.1 पर स्थिर रहा था। उधर, डॉलर इंडेक्स के मजबूत होने से भारतीय मुद्रा में कमजोरी का रुख देखने को मिल रहा है। पिछले सप्ताह रुपये में रिकॉर्ड गिरावट आई और डॉलर के मुकाबले यह 69 के स्तर तक लुढक़ गया।

पीएमआई 51.1 पर स्थिर रहा था

अमेरिका में जून का आईएसएम पीएमआई सोमवार को जारी होने वाली है। अमेरिका में इंस्टीट्यूट फॉर सप्लाई मैनेजमेंट मैन्युफैक्च रिंग पीएमआई मई में 58.7 पर था जबकि अप्रैल में नौ महीने के निचले स्तर पर 57.3 था। अमेरिका में एडीपी रोजगार के आंकड़े गुरुवार को जारी होंगे। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ओपन मार्केट कमिटी (एफओएमसी) के 12-13 जून को हुई बैठक के मिनट गुरुवार को जारी होंगे।

पीएमआई मई में 58.7 पर था

अमेरिकी रोजगार के आंकड़े शुक्रवार को जारी होंगे। अमेरिका में बेरोजगारी मई में 3.8 फीसदी रही जबकि अप्रैल में 3.9 फीसदी थी। पिछले सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट आने के बाद इस सप्ताह दायरे में कारोबार देखने को मिल सकता है।

यहां भी क्लिक करें – https://www.youtube.com/watch?v=9nOeqxqXJfk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *