हल्दिया में बोले पीएम मोदी- बंगाल को आस थी ‘ममता’ की लेकिन उसे ‘निर्ममता’ मिली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को पश्चिम बंगाल के हल्दिया पहुंचे। उन्होंने यहां भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन द्वारा निर्मित एलपीजी आयात टर्मिनल और दुर्गापुर प्राकृतिक गैस पाइप सेक्शन को राष्ट्र को समर्पित किया। इसके बाद उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने सबसे पहले उत्तराखंड त्रासदी पर दुख जताते हुए कहा कि मां गंगा का उद्गम स्थल उत्तराखंड इस समय आपदा का सामना कर रहा है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में ममता बनर्जी पर भी जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी को ‘भारत माता की जय’ सुनना पसंद नहीं हैं। वे इस नारे को सुनते ही काफी नाराज हो जाती हैं। बंगाल में आप दीदी से अपने अधिकार की बात पूछ देंगे तो वो नाराज हो जाती हैं। लेकिन देश के खिलाफ बोलने वाले कितना भी जहर उगल दें, दीदी को गुस्सा नहीं आता।

उन्होंने कहा कि अपराध और अपराधियों का, हिंसा का और लोकतन्त्र पर हमलों का पुनर्जीवन। इससे पश्चिम बंगाल में गरीबी का दायरा और बढ़ता गया। पीएम ने कहा कि बंगाल पहले से जितना आगे था, अगर बीते दशकों में उसकी वो गति और बढ़ी होती, तो आज बंगाल कहां से कहां पहुंच गया होता। आज यहां जितने भी उद्योग हैं, जितना भी कारोबार है, जितना भी इंफ्रास्ट्रक्चर है, वो बदलाव चाहते हैं, आधुनिकता चाहते हैं। लेकिन आप सोचिए, बीते 10 सालों में यहां की सरकार ने कितनी फैक्ट्रियों का शिलान्यास या उद्घाटन किया?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button