बॉलीवुड

आत्मानंद में प्रवेश के लिए दस्तावेज जमा करने एक सप्ताह की तिथि बढ़ी

राजिम। शहर के स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम रामबिशाल पांडे उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय में चयन हुए छात्रों के लिए प्रवेश तिथि 26 जुलाई से लेकर 30 जुलाई 2022 था। इस लिहाज से विद्यालय में ट्रांसफर सर्टिफिकेट समेट अन्य प्रमाण पत्र की छाया प्रति जमा करने के लिए भीड़ लगी हुई थी। गुरुवार को शायद त्योहार के कारण विद्यालय ही बंद था।

जिसके कारण कोई प्रमाण पत्र नहीं लिया गया। आज शुक्रवार को भी लोग 10:00 बजे से स्कूल में पहुंच चुके थे लेकिन 11:30 बजे तक कोई आवेदन नहीं लिए गए। टीचरों को ना पाकर कई लोग वापस भी हो गए। बताया गया कि उसके बाद 11:45 बजे से आवेदन लेने की शुरुआत हुई और देखते ही देखते भीड़ बढ़ गई। पालक प्रमाण पत्र लेकर जमा किए जिन्हें जांच उपरांत रखा गया।

जारी परिपत्र के अनुसार कक्षा पहली से लेकर 12वीं तक के कक्षा के लिए आवश्यक दस्तावेज जमा करना अनिवार्य बताया गया है जिसमें कक्षा पहली के लिए ऑनलाइन की हार्ड कॉपी, जन्म प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की छाया प्रति, दो पासपोर्ट साइज का फोटो, ब्लड ग्रुप, बीपीएल कार्ड, बीपीएल सर्वे सूची/ आय प्रमाण पत्र।

कक्षा दूसरी से लेकर 12वीं तक के लिए ऑनलाइन की हार्ड कॉपी, स्थानांतरण प्रमाण पत्र की मूल प्रति, आधार कार्ड की छाया प्रति, दो पासपोर्ट साइज फोटो, बीपीएल कार्ड, बीपीएल की सर्वे सूची/ आय प्रमाण पत्र। इसके साथ ही टीप में लिखा हुआ है कि जिनका चयन गरीबी रेखा अथवा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के अंतर्गत हुआ है वह सक्षम अधिकारी से जारी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करेंगे।

इसके अभाव में प्रवेश निरस्त हो जाएंगे। इसके अलावा आयुष्मान कार्ड, श्रम कार्ड यदि हो तो जमा करने की बात कही गई है। कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण का प्रमाण पत्र जमा करें, आदि। इसके बाद प्रतीक्षा सूची में चयनित छात्रों को 1 अगस्त से लेकर 3 अगस्त तक समय दिया गया था किंतु अब चयन हुए छात्रों के प्रवेश तिथि में एक सप्ताह का इजाफा कर दिया गया है इससे पालकों ने राहत की सांस ली है।

स्वामी आत्मानंद स्कूल के प्राचार्य ने उपस्थित पलकों को मौखिक रूप से जानकारी दे रहे थे कि अब दस्तावेज जमा करने की तिथि एक सप्ताह के लिए बढ़ गई है। बताना है कि इनमें से बहुत छात्रों के पास ब्लड ग्रुप के प्रमाण पत्र नहीं है तथा दूसरे जिले से आने वाले छात्रों के काउंटर साइन नहीं होने के कारण उन्हें अपने जिले के जिला शिक्षा अधिकारी के पास जाकर अनुमति लेना पड़ रहा है इससे उनको समय लग रहा है।

अब एक सप्ताह का समय देने से पालकों ने राहत की सांस लेते हुए हर्ष जताई है।शीघ्र कक्षा प्रारंभ करने की मांगउपस्थित पालकगण जैसे ही प्रमाण पत्र जमा किया उसके बाद पूछ रहे थे कि कक्षा कब से लगेगी परंतु उपस्थित कर्मचारी जवाब नहीं दे पाए। इन पालको ने जिला कलेक्टर एवं जिला शिक्षा अधिकारी से शीघ्र स्कूल के लिए आवश्यक सामग्री एवं टीचरों की व्यवस्था कर शुरू करने की मांग की है ताकि पढ़ाई शीघ्र प्रारंभ हो सकें।

वैसे भी 16 जून से स्कूल प्रारंभ हो चुके हैं और अब तक स्कूल खुले हुए डेढ़ माह हो चुके हैं। शहर की आत्मानंद विद्यालय की पढ़ाई कहीं पिछड़ न जाए इसलिए शीघ्र स्कूलों में पढ़ाई प्रारंभ करने की मांग की है।आत्मानंद विद्यालय के साथ पंडित रामविशाल पांडे नाम जुड़ागत दिनों फिंगेश्वर जनपद के पूर्व अध्यक्ष बरोंडा निवासी लोकेश पांडे, पंडित रामबिशाल पांडे उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जनभागीदारी एवं प्रबंधन समिति के अध्यक्ष विकास तिवारी तथा पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष कालूराम ध्रुव जिला कलेक्टर प्रभात मलिक के पास जाकर आवेदन दिए थे जिसमें लोकेश पांडे ने मांग करते हुए कहा था कि स्कूल के लिए मेरे पिताजी स्वर्गीय रामविशाल पांडे ने 2 एकड़ जमीन दान में दी है अतः आत्मानंद विद्यालय के साथ मेरे पिताजी का नाम उल्लेखित होना चाहिए, जिस पर कार्यवाही करते हुए अब स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम रामविशाल पांडे उच्चतर माध्यमिक विद्यालय राजिम जिला गरियाबंद छत्तीसगढ़ कर दिया गया है इससे न सिर्फ लोकेश पांडे बल्कि क्षेत्र के लोगों में भी खुशी है और कहा है कि जिन्होंने दान किया है उनका नाम आना ही चाहिए। जिला ने प्रशासन ने सूझबूझ का परिचय दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button