छत्तीसगढ़

फर्जी डिग्री वालों को शिक्षाकर्मी की नौकरी देने वाले मगरलोड जनपद के तत्कालीन सीईओ कमलाकांत तिवारी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कुरूद। धमतरी जिले के मगरलोड जनपद में फर्जी शिक्षाकर्मी भर्ती मामले में मगरलोड पुलिस ने तत्कालीन जनपद पंचयत सीईओ को गिरफ्तार है।वही इस कार्रवाई से शिक्षा विभाग में फर्जी डिग्री के आधार पर नौकरी करने वाले शिक्षको में हडकंप मच गया है।बताया जा रहा है कि साल 2007 में मगरलोड जनपद पंचायत के अंर्तगत शिक्षाकर्मी की भर्ती हुई थी।जिसको लेकर आरटीआई कार्यकर्ता ने शासन प्रशासन में शिकायत कर कहा था की अभ्यर्थियों के अको को बढाकर , बनावटी अंक प्रदान कर अमान्य तथा कुटरचित प्रमाण पत्रों में अभ्यर्थियों का चयन किया गया है।जिस पर एसआईटी गठित कर मामले की जांच की जा रही थी।जांच के दौरान टीम ने दस्तावेज एवं अभ्यर्थियों के आवेदन में सलग्न दस्तावेजों की जांच किया।जांच में सामने आया की शिक्षाकर्मी वर्ग 03 की नियुक्ति आदेश जारी करना , पात्र अनुसूचित जाति जनजाति के अभ्यर्थियों को जानबूझकर नियुक्ति से वंचित कर अपात्र अभ्यर्थियों को नियुक्त करने के संबंध में साक्ष्य मिला। जिस पर मगरलोड पुलिस ने तत्कालीन जनपद सीईओ कमलाकांत तिवारी को भिलाई स्थित उनके निवास से गिरफ्तार किया है।बता दे की आरोपी कमलाकांत तिवारी वर्तमान में परियोजना अधिकारी जिला पंचायत दुर्ग में पदस्थ है।बहरहाल पुलिस आरोपी को गिरफ्तार आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button