देश

देहरादून : कड़ाके की ठंड की वजह से दो तीर्थयात्रियों की मौत

देहरादून : केदारनाथ में कल रात से जारी बफऱ्बारी की वजह से तापमान शून्य से भी नीचे पहुंच गया है. केदारनाथ धाम में पांच इंच मोटी बफऱ् की चादर बिछ गई है और कड़ाके की ठंड की वजह से दो तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है.मौसम विभाग आंधी, बारिश और बफऱ्बारी की चेतावनी के बाद रुद्रप्रयाग जि़ले के स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई थी. इसके अलावा केदारनाथ जाने वाले तीर्थयात्रियों को सोनप्रयाग में ही रोका जा रहा है. केदारनाथ धाम में तीर्थयात्रियों की आवाजाही एकतरफ़ा हो गई है. सिर्फ धाम से वापस आ सकते हैं यात्री.

कड़ाके की ठंड की वजह से दो तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है

सोमवार रात से जारी बफऱ्बारी की वजह से सोमवार रात एक तीर्थयात्री की मौत हो गई और कड़ाके की ठंड से एक महिला तीर्थयात्री की मौत मंगलवार सुबह हो गई. अब तक हो 6 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है.केदारनाथ में लगातार रुक-रुककर बफऱ्बारी हो रही है. पूर्व सीएम हरीश रावत भी केदारनाथ में फंस गए हैं. रावत जीएमवीएन के गेस्ट हाउस में रुके हुए हैं. और अभी उनका वहां से निकलना संभव नहीं लग रहा है.

 2 ) बोकारो : हाइवा ने खड़ी बस को मारी टक्कर, एक की मौत

बोकारो : बोकारो में सडक़ हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई वहीं 30 से अधिक लोग घायल हो गये. दरअसल एनएच 23 अंतर्गत जरीडीह थाना क्षेत्र के बोकारो रांची धनबाद मार्ग के बाधंडीह के पास एक तेज रफ्तार कोयले से लदी हाइवा ने खड़ी 407 सिटी राइड बराती गाड़ी में पीछे से जोरदार टक्कर मार दी. टक्कर इतना जबरदस्त था कि गाड़ी के ऊपर का हिस्सा गाड़ी से अलग हो गया और गाड़ी पर सवार 30 से अधिक लोग घायल हो गए.

वहीं इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई.

इस हादसे में कई अन्य लोगों को गंभीर चोटे आयी है. वहीं कई की स्थिति को गंभीर देखते हुए जैनामोड़ रेफरल अस्पताल से बोकारो जेनरल अस्पताल (बीजीएच) रेफर कर दिया गया. स्थिति इतनी गंभीर थी कि चिकित्सक आनन फानन में सभी मरीजों को रेफर कर रहे थे. लेकिन दुर्भाग्य यह देखने को मिला कि एक भी मरीज को ले जाने के लिए एंबुलेस अस्पताल के पास नहीं था, चूंकी सभी घायल बोकारो के थे तो लोग अपनी व्यवस्था कर इलाज के लिए बीजीएच ले जाते देखे गए.

मरीज को ले जाने के लिए एंबुलेस अस्पताल के पास नहीं था,

इस मौके पर बीडीओ मौके पर पहुंचे तो जरुर लेकिन इतना कहा कि एबुंलेस की व्यवस्था कर रहे हैं.
बताया जा रहा कि बोकारो के आजाद नगर से बाराती रांची के सिल्ली गया था और लौटने के दौरान बांधडीह से कुछ पहले बाराती गाड़ी लोगों के अनुरोध पर रुकी थी. इसी बीच तेज रफ्तार कोयले से लदी हाइवा ने पीछे से गाड़ी में टक्कर मार दी. टक्कर मारने के बाद हाइवा का चालक व खलासी भागने में सफल रहा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button