जगदलपुर : पहले ही दिन रद्द हुई जगदलपुर-विशाखपट्टनम की उड़ान

जगदलपुर : विमान सेवा का लाभ लेने का सपना संजोए बैठे बस्तर वासियों को पहले ही दिन जोर का झटका लगा है। भव्य उद्घाटन के तत्काल बाद दूसरे ही दिन एयर ओडिशा ने जगदलपुर से विशाखापट्टनम का अपनी पहला फेरा रद्द कर दिया है।
वेल्स क्लियरेंस के अभाव में विशाखापत्तनम एयरपोर्ट प्राधिकरण ने एयर ओडिशा को वाईज़ेग एयरपोर्ट में लैंडिंग की अनुमति नहीं दी।
विशाखापट्टनम की पहली उड़ान भरने एयरपोर्ट पहुंचे यात्रियों में मरीज भी थे तो किसी को विशाखापट्टनम से आगे की रेल और ट्रेन कनेक्टिविटी जरूरत थी।एयर ओडिशा के मुताबिक़ मिनिस्ट्री ऑफ़ डिफ़ेंस की अनुमति के पश्चात अगले सोमवार तक जगदलपुर-विशाखपट्टनम की उड़ान प्रारंभ हो सकती है।

2 ) रायपुर : राष्ट्र को समर्पित भिलाई इस्पात संयंत्र ब्लास्ट फर्नेस- 8 लोकार्पित

रायपुर : भिलाई इस्पात संयंत्र नई भारत की दिशा में मजबूत कदम गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कर कमलों द्वारा ब्लास्ट फर्नेस-8 राष्ट्र को समर्पित किये जाने पर भिलाई इस्पात संयंत्र अधिकारियों और कर्मियों ने खुशी का इजहार करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलाकर आपस में एक दूसरे को बधाई दी। भिलाईवासियों के लिए भिलाई का दिन एतिहासिक दिवस साबित हुआ है। पीएम नरेंद्र मोदी ने जैसे ही ब्लास्ट फर्नेस -8 का उद्घाटन किया वैसे ही करतल ध्वनि से इस्पात कर्मियों ने सभा स्थल पर ही अपनी खुशी जाहिर कर पीएम के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। 7 मिलियन टन उत्पादन का लाभ हासिल करने वाली यह देश की सबसे बड़ी इकाई बन गई है। प्रतिदिन उत्पादन में 8 हजार टन का मेटल तैयार होगा।

बीआरएम ने बताया कि लोकार्पित इकाई से 9 लाख टन उच्च कोटि का सरिया का उत्पादन होगा। दुनिया की सबसे लंबी रेल पांत बनाने में सक्षम भिलाई इस्पात संयंत्र नई इकाई के लोकार्पित होने के बाद अपने वल्र्ड रिकार्ड को लंबे समय तक बनाये रखेगा। मिली जानकारी के अनुसार सरहद की चौकसी में पनडुब्बी 290 बी क्वालिटी की प्लेट आपूर्ति करने में बीएसपी का रिकार्ड रहा है। वहीं युद्ध विमानक पोत की उपरी चद्दर में विशेष सील के लिए प्रयुक्त होने वाली प्लेट का इस्तेमाल भी भिलाई इस्पात संयंत्र से निर्मित लौह प्लेट से ही होता है। रेलवे के संबंध में जानकारी देते हुये वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बांद्रा वर्ली मुंबई सेतू में भिलाई का लौहा प्रयोग किया जा रहा है।

वहीं न्यूट्रिनो आब्जबेटरी में लगने वाली प्लेट हमारे संयंत्र की ही है। श्रमिक नेता आरडी कोरी प्रशांत कुमार रविंद्र घोष रोहीन शुक्ला विनीता साहू रजित घोष आदि ने पीएम मोदी द्वारा भिलाई इस्पात संयंत्र को दी जाने वाली सौगात पर खुशी जाहिर करते हुये 14 जून को स्मरणीय तिथि बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *