छत्तीसगढ़रायपुर

रायपुर : 17 को पेण्ड्रा में राहुल की सभा : महंत-उईके आज करेंगे सभास्थल का चयन

रायपुर ; अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राहुल गांधी के 17 मई को पेण्ड्रा में प्रस्तावित सभा के लिए कांग्रेस की ओर से तैयारियां शुरू हो गई है। वरिष्ठ नेता डा. चरण दास महंत और रामदयाल उईके आज पेण्ड्रा में सभास्थल का चयन करने वाले हैं। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का 17 मई को पेण्ड्रा में एक आमसभा प्रस्तावित है। इसके लिए कांग्रेस की ओर से जोरदार तैयारियां शुरू कर दी गई है। राहुल गांधी के 17 मई को पेण्ड्रा में प्रस्तावित सभा के लिए कांग्रेस की ओर से तैयारियां शुरू हो गई हैपार्टी के वरिष्ठ नेता डा. चरणदास महंत और रामदयाल उईके आज पेण्ड्रा पहुंचकर आमसभा के लिए स्थल चयन करेंगे। इसके अलावा वे यहां के कार्यकर्ताओं और जिला पदाधिकारियों से मुलाकात कर आवश्यक दिशा-निर्देश देंगे। इधर कांग्रेस से निकले पूर्व मुख्यमंत्री और जनता कांग्रेस के प्रमुख अजीत जोगी की भी सभा पेण्ड्रा में प्रस्तावित है।कार्यकर्ताओं और जिला पदाधिकारियों से मुलाकात कर आवश्यक दिशा-निर्देश देंगे एक लिहाज से कांग्रेस और जनता कांग्रेस दोनों पेण्ड्रा में एक-दूसरे के सामने आ गए हैं। जनता कांग्रेस से अमित जोगी भी आज क्षेत्र के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की एक बैठक लेने वाले हैं। बैठक में पार्टी प्रमुख की सभा को सफल बनाने रणनीति बनाई जाएगी। इस बैठक में धरमजीत सिंह, गुलाब सिंह और देवव्रत सिंह आदि भी शामिल होंगे।
2 )  रायपुर : अनिवार्य सेवानिवृत्ति के प्रकरणों में सीएम लेंगे अंतिम निर्णय रायपुर :  50 वर्ष की आयु अथवा 20 वर्ष की सेवाकाल पूरा करने के बाद अनिवार्य सेवानिवृत्ति मांगने वालों के संबंध में राज्य सरकार की ओर से सभी विभागाध्यक्षों, संभागीय आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को इसी माह एक परिपत्र जारी किया गया है। ज्ञात हो कि राज्य सरकार ने अनिवार्य सेवानिवृत्ति के आवेदनों पर विचार करने के लिए तीन अलग-अलग समितियों का गठन किया है। संभागीय आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को इसी माह एक परिपत्र जारी किया गया हैइन समितियों में अलग-अलग श्रेणियों के शासकीय कर्मचारियों के प्रकरणों की जिम्मेदारी तय कर दी गई है। वहीं जारी परिपत्र में प्रक्रिया निर्धारित करते हुए अभ्यावेदन समितियों का गठन किया गया है। परिपत्र में कहा गया है कि इन समितियों के द्वारा अभ्यावेदनों पर दो सप्ताह के अंदर विचार कर अपनी अनुशंसा संबंधित परिपत्र में प्रक्रिया निर्धारित करते हुए अभ्यावेदन समितियों का गठन किया गया हैप्रशासकीय विभाग को प्रेषित की जाएगी। अनिवार्य सेवानिवृत्त किए गए शासकीय सेवकों के अभ्यावेदनों पर समितियों द्वारा की गई अनुशंसा पर प्रशासकीय विभाग द्वारा अंतिम निर्णय समन्वय में मुख्यमंत्री के अनुमोदन के पश्चात लिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button