रायपुर : स्वामी विवेकानदं का संदेश पूरी दुनिया के लिए है : भूपेश बघेल

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय नेवई, भिलाई में 68 करोड़ की लागत से बनने वाले निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर गृह एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू, वाणिज्य कर एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा, तकनीकी शिक्षा मंत्री उमेश पटेल विशेष रूप से उपस्थित थे।मुख्यमंत्री बघेल ने विश्वविद्यालय परिसर में स्थापित स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उन्होंने यहां विवेकानंद युवा कौशल सेतु का शुभारंभ भी किया। मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर यहां आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद ने जो संदेश दिया है, उसकी सार्थकता पूरी दुनिया के लिए है। स्वामी विवेकानंद जी के संदेश में जीवित नारायण की सेवा का सबसे बड़ा उद्देश्य माना जाता है। उन्होंने आगे कहा कि इसका जीता-जागता उदाहरण नारायणपुर में स्थित विवेकानंद आश्रम में देखा जा सकता है।

ये खबर भी पढ़ें – रायपुर : निर्वाचन व्यय लेखा जमा नहीं करने वाले प्रत्याशी निर्वाचन के लिए हो सकते हैं अयोग्य

मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद जी का छत्तीसगढ़ में बिताए गए पलों को स्मरण करते हुए कहा कि स्वामी जी ने 12 वर्ष की उम्र में जबलपुर से बैलगाड़ी से रायपुर आए थे। वे युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत रहे हैं। उनकी स्मृति को चिस्थायी बनाए रखने के लिए उनके जन्म दिवस को युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि स्वामी जी की संदेश एवं चरित्रार्थ से प्रेरित होकर आत्मानंद महाराज ने रायपुर में विवेकानंद आश्रम की स्थापना की है। विवेकानंद आश्रम में स्वामी जी की स्मृतियों को अक्षुण्य रखने का कार्य किया जाता है। उन्होंने प्रदेशवासियों को स्वामी विवेकानंद की जयंती की शुभकामनाएं देते हुए उनके कार्य और संदेश को आत्मसात करते हुए आगे बढऩे और प्रदेश की विकास में सहभागी बनने कहा। मुख्यमंत्री ने आज विश्वविद्यालय परिसर में बनने जा रहे निर्माण कार्यों को विश्वविद्यालय के लिए एक शिखर बताया। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में इन निर्माण कार्यों के होने से युवाओं को अपना भविष्य निर्माण करने की दिशा में मदद मिलेगी। स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय युवाओं को तकनीकी शिक्षा, प्रशिक्षण, कौशल उन्नयन एवं भविष्य गढऩे का कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि स्वामी जी की स्मृति को बनाए रखने के लिए ही विश्वविद्यालय का नाम उनके नाम पर रखा गया है।

ये खबर भी पढ़ें – रायपुर : मुख्यमंत्री का छत्तीसगढ़ यादव समाज ने किया अभिनन्दन

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि तकनीकी शिक्षा एक ऐसा क्षेत्र है, जिसके सहारे नई उंचाईयों को छूआ जा सकता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में निर्माण कार्य होने पर तकनीकी शिक्षा के विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा के साथ ही नई उंचाईयों को छूने में मदद मिलेगी। तकनीकी शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने कहा कि विश्वविद्यालय आने वाले समय में अपने कुशल नेतृत्व से उच्च शिक्षा एवं नैतिक शिक्षा के क्षेत्र में नए उंचाईयों को प्राप्त करेगा।इस अवसर पर विधायक भिलाई नगर देवेंद्र यादव, विधायक कोंडागांव मोहन मरकाम, विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एन.के. वर्मा, कुल सचिव डॉ. डी.एन. सिरशान, संभागायुक्त दिलीप वासनीकर, स्वामी विवेकांनद राष्ट्रीय सेवा योजना समिति के अध्यक्ष एस.आर. ठाकुर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी, विश्वविद्यालय एवं अन्य तकनीकी महाविद्यालयों के प्राचार्यगण, प्राध्यापकगण, अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में महाविद्यालयीन छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *