देश

रायपुर : पार्सल बम विस्फोट मामले में ओडिशा आईजी ने की मीडिया से चर्चा

रायपुर : ओडि़शा के भवानीपटना में शादी के रिशेप्सन के दौरान मिले गिफ्ट के पार्सल में हुए बम विस्फोट मामले में ओडि़शा पुलिस ने आरोपी पुंजीलाल मेहेर को गिरफ्तार किया है। वहीं पुलिस पुंजीलाल की पार्सल बम को कुरियर करने वाला ऑटो चालक की पतासाजी कर रही है। ऑटो चालक की पता बताने वाले को उडि़सा पुलिस द्वारा 25 हजार रूपए का ईनाम देने की घोषणा की है।

बम विस्फोट मामले में ओडि़शा पुलिस ने आरोपी पुंजीलाल मेहेर को गिरफ्तार किया है

उडि़सा क्राईम पुलिस महानिरीक्षक अरूण बोथरा ने सिविल लाईन पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचकर पत्रकारों से चर्चा किए। इस दौरान उन्होंने बताया कि ओडि़शा के भवानीपटना मेें शादी रिशेप्सन के दौरान मिले गिफ्ट के पार्सल में हुए बम विस्फोट मामले में पुलिस ने अंग्रेजी के प्राध्यापक पुंजीलाल मेहेर को गिरफ्तार किया है। पुलिस को आरोपी पर संदेह तभी हो गया। जब पुंजीलाल ने उडि़सा एसपी को पत्र लिखा और उस पत्र में एस.के.सिन्हा का नाम लिखा। जबकि पुलिस कुरियर पार्सल में लगे हुए नेम प्लेट पर लिखे नाम को एस.के.शर्मा मान रही थी।

उडि़सा एसपी को पत्र लिखा और उस पत्र में एस.के.सिन्हा का नाम लिखा

पुलिस ने पुंजीलाल मेहेर को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो उसने बताया कि मृतक सौम्यरंजन साहू की मां संयुक्ता साहू से वह काफी नाराज था। बताया जाता है कि संयुक्ता साहू आरोपी से 13 वर्ष की वरिष्ठ थी। इसलिए उसे प्राचार्य का पदभार दिया गया था। जिससे वह उसके परिवार को खत्म करने की योजना बनाई थी। वह इस योजना में अकेले शामिल था। आरोपी पुंजीलाल ने दीवाली के पटाखों से करीब 2 किलो बारूद निकाला और उसमें झालर लाईट की एलईडी बल्ब को फिट कर पार्सल बनाया।

बताया जाता है कि संयुक्ता साहू आरोपी से 13 वर्ष की वरिष्ठ थी

उसके बाद आरोपी पुंजीलाल बिना टिकट खरीदे ट्रेन से रायपुर पहुंचा और ऑटो रिक्शा में सवार होकर कुरियर ऑफिस पहुंचा। जहां आरोपी ने ऑटो चालक को ज्यादा पैसा देते हुए कहा कि उसके पैर में तकलीफ है यह पार्सल कुरियर कर दो। जिससे ऑटो चालक ने पार्सल को कुरियर ऑफिस के अंदर जाकर दे दिया। पुलिस ने आरोपी के घर से बम बनाने का सामान और बारूद बरामद किया था। वहीं उसके घर से एक डायरी बरामद किया है।

ऑटो चालक ने पार्सल को कुरियर ऑफिस के अंदर जाकर दे दिया

जिसमें संयुक्ता साहू के बारे में कड़वी बात लिखी गई है। उडि़सा पुलिस रायपुर में वह ऑटो चालक की तलाश कर रही है। जिसमें आरोपी पुंजीलाल सवार होकर कुरियर कंपनी के ऑफिस तक पहुंचा था। पुलिस ने ऑटो चालक को सरकारी गवाह बनाने की बात कहीं है। वहीं ऑटो चालक की पता बताने वाले को उडि़सा पुलिस द्वारा 25 हजार रूपए ईनाम देने की घोषणा की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button