विद्यार्थियों के जीवन की सुरक्षा महत्वपूर्ण – राज्यमंत्री परमार

बारहवीं बोर्ड की परीक्षाएँ निरस्त

स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इन्दर सिंह परमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर विद्यार्थियों के स्वास्थ्य और सुरक्षित भविष्य को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं को निरस्त करने का निर्णय लिया है।

परमार में कहा कि मुख्यमंत्री चौहान का सदैव यह मत रहा है कि विद्यार्थियों का भविष्य एवं उनका स्वास्थ्य दोनों ही हमारी सर्वोच्च प्राथमिकताएँ होनी चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर छात्र-छात्राओं के हितों में लिए गए ऐतिहासिक निर्णय का प्रदेश सरकार ने समर्थन किया है। परमार ने विद्यार्थियों के जीवन की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री चौहान द्वारा लिये निर्णय के प्रति हार्दिक धन्यवाद और आभार व्यक्त किया।

परमार ने कहा कि हमारा प्रदेश भी कोरोना की चपेट में आया और हमारे अपने कई लोग बिछड़ गए। कई विद्यार्थियों के अभिभावक इस दुनिया में नहीं रहे और वे तनाव का जीवन जी रहे हैं। बारहवीं की परीक्षा को लेकर विद्यार्थियों और अभिभावकों में अनिश्चितता का वातावरण था, उसे समाप्त करते हुए प्रदेश सरकार ने 12वीं की परीक्षा नहीं कराने का निर्णय लिया।

  परमार ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का प्रभाव विद्यार्थियों और 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों पर पड़ने की अधिक संभावना है, इसलिए यह निर्णय महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी भी विद्यार्थी को घबराने की जरूरत नहीं है। बारहवीं कक्षा का रिजल्ट वैज्ञानिक पद्धति के द्वारा तैयार किया जाएगा।

इसके बाद भी यदि कोई विद्यार्थी संतुष्ट नहीं होता है, तो उसके लिए परीक्षा का विकल्प भी रखा जाएगा। राज्य मंत्री परमार ने सभी विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की अपील भी की। परमार ने कहा कि कोरोना महामारी में अपने आप को सुरक्षित रखें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और मास्क जरूर लगाएँ।

यही हम सबकी जिम्मेदारी है। परमार ने कहा कि प्रदेश के विद्यार्थियों का स्वास्थ्य और जीवन की सुरक्षा सरकार के लिए सर्वोपरि है। विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएँ जायेंगे। परमार ने सभी विद्यार्थियों के सफल और सुरक्षित जीवन के लिए शुभकामनाएँ दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button