9 December 2020: एजुकेशन पर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, पढ़िए मध्यप्रदेश की सुबह की सुर्खियां

कौन कहां से लड़ेगा महापौर और अध्यक्ष का चुनाव ? आज होगा फैसला

  1. भोपाल-इंदौर मेट्रो: अतिक्रमणकारियों को भी मिलेगा पैसा – एमपी कैबिनेट ने मंगलवार को नए प्रावधानों को मंजूरी दे दी। राज्य सरकार विवाद न हो। इसीलिए आपसी सहमति वाले इस प्रावधान को लागू किया जा रहा है । नए प्रावधानों में अतिक्रमण करने वाले गुमठी और हाथ ठेले वालों को भी पैसा मिलेगा।

2. जीरो घोषित नहीं होगा सत्र, 8वीं तक की परीक्षाएं भी रद्द

भोपाल: स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार एवं विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी ने मंगलवार को निजी स्कूल संचालकों की बैठक में कहा कि यह सत्र जीरा ईयर यानी शून्य वर्ष घोषित नहीं होगा । सरकारी स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा तक की सालाना परीक्षाएं भी नहीं होगी। प्रोजेक्ट के आधार पर बच्चों को अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा।

3. बोरों में पत्थर, मिट्टी भरकर 5 करोड़ का माल निकाला

इंदौर: आर्थिक अपराध अन्वेषण प्रकोष्ठ ने एक वेयर हाउस में गिरवी रखे 12 करोड़ 47 लाख रुपए के चना, भूसा में से पांच करोड़ रुपए का माल निकाले जाने और उस माल के बदले बोरों में पत्थर, मिट्टी, मुरम भरे जाने के मामले में कुछ लोगों पर केस दर्ज किया है। वेयर हाउस के मालिक, मैनेजर सहित अन्य के खिलाफ नामजद कायमी की गई है।

4. इंदौर में बंद रहा बेअसर, खुले रहे सभी बाजार

इंदौर: कुछ किसान संगठनों ने व्यापारियों से शांतिपूर्वक किसानों के समर्थन में दुकानें, व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रखने का आग्रह किया । हालांकि बाजार पूरी तरह खुले रहे। आवागमन भी जारी रहा।

5. कौन कहां से लड़ेगा महापौर और अध्यक्ष का चुनाव ? आज होगा फैसला

भोपाल: नगर निगम के महापौर और नगर पालिका व नगर परिषद के अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण बुधवार सुबह 11 बजे रविंद्र भवन में होगा । प्रदेश के 407 नगरीय निकायों के लिए आरक्षण की कार्यवाही की जाएगी । इनमें 16 नगर निगम, 99 नगर पालिका और 292 नगर परिषद शामिल हैं । आपको बता दें प्रदेश के 344 निकायों में चुनाव होना हैं। इसमें 307 निकाय ऐसे हैं, जिनका कार्यकाल पूरा हो चुका है। इसमें सभी 16 नगर निगम शामिल हैं।

6. डबरा में प्रधानमंत्री का पुतला जलाया, पुलिस ने फायर ब्रिगेड से फेंका पानी

हर सहित भितरवार और पिछोर में मंगलवार सुबह से ही शुगर मिल पर किसानों का जुटना शुरू हो गया था। यहां से सभी किसान बाइकों से झंडा लगाकर बाजार में निकले। कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद के आह्वान पर मंगलवार को शहर में किसान जुटे। बाइकों से आए किसानों ने बाजार में घूमकर दुकानें बंद कराईं। इस दौरान जब किसान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला जलाने लगे तो पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए फायर ब्रिगेड से पानी फेंका, लेकिन किसानों ने पुतला जला ही दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button