छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

छत्तीसगढ़ की पहली महिला IPS हैं यह, अभिनेत्री रवीना टंडन तक हुईं प्रभावित

महिला IPS

फोर्थ आई न्यूज़ हमेशा ही अपने दर्शकों के लिए स्पेशल स्टोरीज लेकर आता है। इसी कड़ी में आज हम आपको हमारे ही छत्तीसगढ़ राज्य की एक ऐसी महिला आईपीएस अधिकारी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होनें कड़े संघर्षों के बाद यह मुकाम हासिल किया और इनकी कार्यशैली देहकर हिंदी फिल्म अभिनेत्री रवीना टंडन भी इनकी मुरीद हो गईं। यह आईपीएस अधिकारी जितनी रौबदार हैं उतनी ही खूबसूरत भी। लुक्स में यह अच्छी-अच्छी मॉडल्स को भी मात देतीं हैं।

कम उम्र में ही सफलता के शिखर पर विराजित होने वालीं यह आईपीएस अधिकारी हैं अंकिता शर्मा। 25 जून 1990 को छत्तीसगढ़ के दुर्ग ज़िले में जन्मीं अंकिता शर्मा तीन बहनों में सबसे बड़ीं हैं। उनके पिता राकेश शर्मा बिज़नेस मैन हैं वहीं माँ गृहणी हैं। अंकिता शर्मा पढाई में बचपन से ही मेधावी छात्रा रहीं। ग्रेजुएशन करने के बाद अंकिता ने एमबीए किया और यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए दिल्ली चली गईं। जब प्रशासनिक सेवा की तैयारी की तब 2 अटेम्प्ट्स विफल रहे मगर अंकिता ने हार नहीं मानी और तीसरी कोशिश में ही यूपीएससी एग्जाम क्रेक कर लिया। 2018 में यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा क्रैक की और 203वीं रैंक प्राप्त कर छत्तीसगढ़ की पहली महिला आईपीएस ऑफिसर बनी.

अंकिता शर्मा की शादी आईपीएस अधिकारी बनने से पहले ही हो गई थी। उनके पति भारतीय सेना में मेजर हैं और वर्तमान में मुंबई में तैनात हैं। अंकिता को घुड़सवारी और बैडमिंटन खेलने का शौक है। इंस्टाग्राम पर अक्सर वह घुड़सवाड़ी की फोटो शेयर करती हैं।

शुरूआती 2 सालों में छत्तीसगढ़ में अलग-अलग पदस्थपना के बाद उन्हें मिली प्रदेश के घर इलाके नक्सलगढ़ में पोस्टिंग। बस्तर एक ऐसा इलाका जहाँ कोई भी जाने से कतरा जाए मगर अंकिता ने इस पोस्टिंग का स्वागत किया और इसे अपनी ड्रीम पोस्टिंग बताया। बस्तर में बतौर एंटी नक्सल ऑपरेशन की कमान संभाले DRG जवानों के साथ कदमताल करते हुए आईपीएस अंकिता शर्मा ने नक्सल ऑपरेशन की कमांड संभाली। इस दौरान आईपीएस अंकिता शर्मा ने यह महसूस किया कि नक्सलियों ने मानसिक तौर पर बस्तर के भोले-भाले ग्रामीणों को जकड़ रखा है. उन्होनें यह हमेशा कोशिश की कि ग्रामीण नक्सलवाद से मुक्त होकर आम लोगों की तरह बेहतर जिंदगी जी सकें।

घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र में गश्ती के दौरान जब उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो इसने बॉलीवुड एक्ट्रेस रवीना टंडन को भी पभवित किया। रवीना टंडन ने बाकायदा उनकी तस्वीर को ट्वीट करते हुए उनके हौसले की जमकर तारीफ की थी। इस तारीफ पर अंकिता शर्मा ने बीएस इतना कहा था कि रवीना जी को धन्यवाद मगर उनकी सेवा से आम जन प्रभावित हो रहे हैं उनसे वो धन्यवाद की चाह रखना चाहती हैं।

अंकिता शर्मा मानतीं हैं कि छत्तीसगढ़ के साथ-साथ बस्तर की महिलाओं को लेकर भी लोगों की काफी सारी भ्रांतियां हैं, लेकिन इसकी बिना परवाह के छत्तीसगढ़ की युवतियों और महिलाओं को इच्छाशक्ति मजबूत कर सफलता हासिल करने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए. बस्तर के ग्रामीण अंचलों में राह से भटककर बंदूक उठाए युवक और युवतियों से उन्होंने अपील की कि सरकार की मुख्यधारा से जुड़ कर देश की सेवा के लिए बंदूक उठाएं. वो चाहतीं हैं कि हिंसा का रास्ता छोड़कर सभी युवा शिक्षा ग्रहण कर समाज के लिए अच्छा काम कर सकते हैं. बस्तर में नक्सल मोर्चा संभालने के बाद हर रविवार को अंकिता शर्मा यहाँ से बच्चों की यूपीएसी तैयारी करवाने ऑनलाइन क्लास लेती थीं और यूपीएससी एग्जाम में सफलता पाने के टिप्स भी बताती रहीं।

आज अंकिता छत्तीसगढ़ में युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत बन चुकी हैं। मगर देश के कई आईपीएस और आईएएस अंकिता के लिए आइडल हैं। अजीत ढोभाल, आईपीएस नीतू कमल, संजोक्त जैसे अधिकारियों से अंकिता शर्मा काफी प्रभावित रहीं हैं। अंकिता शर्मा जब रायपुर में सीएसपी थीं तब इस दौरान पुलिस जवानों के बच्चों को कोचिंग दिया करती थी. साथ ही कई यूपीएससी प्रतिभागियों को परीक्षा की तैयारी के दौरान हुई गलतियां से बचने की टिप्स दी थी.

आपको बता दें की अंकिता शर्मा अपने प्रशासनिक पेशे के अलावा भी सराहनीय कार्यों के लिए सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोरती रहीं हैं। उनके सोशल मीडिया पेजेस पर लाखों फोल्लोवेर्स हैं जो ना सिर्फ उन्हें अपना आइडल मानते हैं बल्कि उनकी स्टाइल के भी मुरीद हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button