सोनिया गांधी ने किसान आंदोलन को लेकर सियासत तेज, सरकार को घेरने की बनेगी रणनीति

नई दिल्‍ली, नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों के आंदोलन के बीच सियासी सरगर्मी भी तेज हो गई है। एएनआइ के मुताबिक, कांग्रेस की अंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने कृषि कानूनों के मसले पर विपक्षी दलों के नेताओं से संयुक्‍त रणनीति बनाने को लेकर बातचीत की है। बजट सत्र नजदीक आता देख कांग्रेस इस मौके को भुनाने में जुट गई है। कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों को भी लामबंद करना शुरू कर दिया है।

सूत्रों के मुताबिक, संसद का सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस विपक्षी दल के नेताओं के साथ एक बैठक करेगी जिसमें संयुक्‍त रणनीति पर मंथन होगा । इस बीच किसानों के आंदोलन पर सुप्रीम कोर्ट ने तल्‍ख टिप्‍पणियां की है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि किसानों के साथ सरकार की बातचीत के तरीके से वह बहुत निराश है। शीर्ष अदालत ने कहा कि इस विवाद का समाधान खोजने के लिए वह अब एक समिति गठित करेगी।

सुप्रीम कोर्ट की टिप्‍पणियां सामने आने के बाद कांग्रेस ने सरकार पर तगड़ा निशाना साधा है। कांग्रेस ने कहा है कि अब प्रधानमंत्री को देश के सामने आकर कृषि कानूनों को रद्द करने की घोषणा करनी चाहिए। कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने सोमवार को कहा कि मोदी सरकार क़ानूनों में 18 संशोधन करने के लिए तैयार है जाहिर है कि ये कृषि कानून ही गलत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button