छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

छत्तीसगढ़ में साल 2022 रहा इन घटनाओं के नाम,कुछ से सहम गए थे प्रदेशवासी

साल 2022 रहा इन घटनाओं के नाम

नमस्कार दोस्तों, फोर्थ आई न्यूज़ में आप सभी का स्वागत है। दोस्तों साल 2022 की विदाई के साथ ही 2023 की शुरुआत होने जा रही है। बीते साल में हमारे प्रदेश में कई बड़ी घटनाएं हुईं हैं, इनमें से कुछ घटनाए ऐसी भी रहीं जिससे हमारे प्रदेशवासी स्तब्ध रह गए। आज हम ऐसी ही कुछ घटनाओं का ज़िक्र करने जा रहे हैं।

ईडी-आईटी के छापे
छत्तीसगढ़ की ऐसी खबर जो लंबे समय से पूरे छत्तीसगढ़ में सुर्खियों में रही। जब भी छत्तीसगढ़ में ईडी और आईटी का जिक्र होगा तो साल 2022 कभी भुला नहीं जा सकेगा। यह पूरा साल छत्तीसगढ़ में छापे का साल रहा। ईडी ने 11 अक्टूबर को प्रदेश के कई जिलों में एक साथ दबिश दी थी। इसमें आईएएस ऑफिसर के अलावा कई कारोबारियों के घर छापे मारे गए थे। जिसकी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी कड़ी निंदा की थी। ईडी की ताबड़तोड़ कार्यवाही से राजनीतिक सियासत गरमाई हुई थी छापेमारी के बीच गिरफ्तारियां का दौर भी शुरू हुआ जिसमें ईडी की कार्यवाही में आईएएस अफसर सहित कोयला कारोबारीयों को ईडी की टीम ने गिरफ्तार किया। इनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग समेत कोयला घोटाले का आरोप लगाया गया वर्तमान में यह सभी जुडिशल रिमांड पर जेल में है।

सराफा व्‍यापारी की गोली मारकर हत्‍या
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के अमलेश्वर में यूपी और बिहार से पहुंचे लुटेरों ने सर्राफा व्यापारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसका वीडियो सोशल मीडिया भी सामने आया था, जिसमें दो बदमाश बेखौफ होकर दिनदहाड़े गोली मारते हुए दिख रहे थे। दुर्ग पुलिस बदमाशों को पकड़ने के लिए लगातार नाकेबंदी कर रही थी, लेकिन समय बीतने के बाद पुलिस को सफलता हाथ लगी जिसमें यूपी और बिहार से पहुंचे इन लुटेरों ने सोने-चांदी के जेवर लेकर छत्तीसगढ़ से नौ दो ग्यारह हो गए थे। पुलिस ने घटना में चार आरोपियों को यूपी और बिहार से गिरफ्तार किया था इसमें एक आरोपी सौरभ कुमार सिंह खुद को भाजपा सांसद का भतीजा बताया था।

8 साल की मासूम से रेप कर घोंटा गला
8 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म और उसके बाद हत्या, यह मामला 7 दिसंबर को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर का है। इसमें राजधानी रायपुर में 2022 के अंतिम महीने में मासूम बच्ची का अपहरण और फिर दुष्कर्म फिर गला घोट कर हत्या का मामला सामने आया था जिसमें पुलिस ने 5 दिन कड़ी मशक्कत के बाद इस वारदात को अंजाम देने वाले 14 साल के अपचारी बालक को गिरफ्तार किया था जो कि मासूम बच्ची का पड़ोसी भी था। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर 15 दिसंबर को खुलासा किया था घटना से छत्तीसगढ़ सहम गया था लोगों के अंदर काफी आक्रोश भी देखा गया था इसके बाद क्राइम सीन पर अपचारी बालक कि लोगों ने जमकर पिटाई की थी कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने आरोपी को सुरक्षित बाहर निकाला था।

पूर्व कांग्रेस नेता की दिनदहाड़े हत्या

एक और बड़ी घटना का जिक्र करे तो छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर में 14 दिसंबर को अंधाधुंध फायरिंग में पूर्व कांग्रेसी नेता संजय त्रिपाठी की हत्या कर दी गई थी। यह हत्या बिलासपुर के सकरी ओवर ब्रिज के पास हुई थी जहां पर संजू त्रिपाठी कार में सवार होकर अपने घर जा रहा था उस बीच कार में सवार होकर आए हमलावरों ने अंधाधुंध फायरिंग करते हुए संजू त्रिपाठी की गोली मारकर हत्या कर दी थी जिस मामले में पुलिस ने छानबीन करते हुए उसके परिवार के सभी लोगों को हिरासत में लिया जिसमें उसके छोटे भाई, छोटे भाई की पत्नी, उसके पिता बहन,जीजा,साला, भांजा को जेल भेजने का काम किया है। इस अंधाधुंध फायरिंग में सुपारी किलिंग का मामला सामने आया है जिसमें पुलिस अभी भी गोली चलाने वाले किलर को ढूंढने की तलाश में जुटी हुई है।

सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर ने की आत्महत्या

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ का एक ऐसा मामला जो कि हाल ही में बड़ी सुर्खियों में रहा है। यूट्यूबर और सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर लीना नागवंशी की 26 दिसंबर को संदिग्ध हालत में मौत और फांसी से लटका शव मिलने से हड़कंप मच गया था। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ की रहने वाली लीना का शव संदिग्ध हालत में उसके घर की ही छत पर पाइप से लटका हुआ मिला था। लीना नागवंशी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती थी लीना को उनकी शॉर्ट वीडियोस और इंस्टाग्राम पर रील बनाने लिए जाना जाता था 22 साल की लीना नागवंशी ने ऐसा कदम क्यों उठाया इसका तक पता नहीं चला है इतना ही नहीं लीना के शव के पास से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ था पुलिस फिलहाल इस मामले में जांच कर रही है।

तो इस तरह से साल 2022 अपने साथ कुछ ऐसी घटनाएं देकर जा रहा है। इनके अलावा भी क्या कोई ऐसी बड़ी घटना रही जिसने हमारे छत्तीसगढ़वासियों को दहला दिया ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button