छत्तीसगढ़

सन्ना व मनोरा क्षेत्र के लगभग 1500 किसान मिर्च की खेती से अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं

 से अच्छा

जशपुर जिले में  किसानों के खेती करने के लिए जलवायु बहुत ही अनुकूल और यहां के किसान मिर्च, आलू, टमाटर, काजू के अच्छी खेती करते हैं फल दार फलो से भी किसानों को सीजन अनुसार अच्छा लाभ मिल जाता है नाशपाती, लीची की भी जशपुर में अच्छी पैदावार होती है साथ ही स्थानीय बाजार के साथ दूसरे राज्यों में फलों की हमेशा मांग बनी रहती है  उघान विभाग के सहायक संचालक आर एस तोमर ने जानकारी देते हुए बताया कि जशपुर जिले में इस साल करीब 3 हजार हेक्टेयर में मिर्च कि खेती की गई है करीब 1500 कृषकों के द्वारा मिर्च की खेती की जा रही है।
जशपुर जिले में साल दर साल बढ़ रहे मिर्ची उत्पादन से अब पडोसी राज्य, महाराष्ट्र, उड़ीसा, बंगाल, झारखण्ड,तेलंगाना सहित अन्य राज्यों के व्यवसायी जशपुर के ओर रूख करने लगे हैं। यहॉ मिर्च की व्हीएनआर, एनएजीओ, जी.के.205 एवं सिमिंगस सहित अन्य कम्पनियों के बीच कि गुणवत्ता कॉफी अच्छी है। कुछ बड़े कृषिकों द्वारा प्रति कृषक 15-20 हेक्टर में अच्छा उत्पादन किया जा रहा। सन्ना तथा मनोरा क्षेत्र के मुख्यतः बड़े कृषक रमेश राम, बलंवत गुप्ता, सुहेल आलम व नयीम अंसारी द्वारा भारी मात्रा में मिर्च की खेती की जा रही तथा उद्यान विभाग के मार्गदर्शन में ड्रीप व मल्चिंग नई तकनीक से उत्पादन अधिक बढ़ाने के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है।जशपुर के बसंत यादव व सन्ना के गुड्डू जैन द्वारा विभिन्न राज्यों तक मिर्च की सप्लाई की जा रही। जिससे कृषकों को अब तक 55-60 रू. किलोग्राम तक अधिकतम कीमत प्राप्त हो रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button