Bengal Opinion Poll:’फाइनल’ ओपिनियन पोल, BJP सत्ता तक पहुंचेगी ?

नया सर्वे भाजपा को कर सकता है मायूस

नईदिल्ली,  पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की वोटिंग के लिए अब महज चंद रोज ही बचे हैं । ऐसे में पहले फेज की वोटिंग का हर कोई इंतजार कर रहा है । जिन पांच राज्यों में चुनाव हो रहे हैं उसमें लोगों की नजरें सबसे ज्यादा पश्चिम बंगाल पर टिकी हुई है । बंगाल में 27 मार्च से वोटिंग शुरू होने जा रही है, जो कि 29 अप्रैल तक चलेगी ।

ममता-मोदी ने झोंक दी ताकत

बंगाल में ममता बनर्जी तीसरी बार सत्ता में वापसी की उम्मीद लगा रही हैं । तो इस बार भाजपा किसी भी हालत में पश्चिम बंगाल में जीत हासिल करना चाहती है । यहां  बीजेपी राज्य में 200 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल करने का दावा कर रही है । हालांकि, जो ओपिनियन पोल आ रहे हैं, उससे भाजपा मायूस जरूर हो सकती है । क्योंकि  पूरी ताकत झोंकने के बावजूद भी इस बार बीजेपी राज्य में सत्ता हासिल करने से काफी दूर रह सकती है ।

क्या ममता बेनर्जी को चोट का फायदा मिला ? सर्वे में पढ़िये क्या कहते हैं लोग

वोटिंग से पहले एक और सर्वे आया

एबीपी न्यूज-सी वोटर ने वोटिंग शुरू होने से ठीक पहले एक ताजा सर्वे लेकर आए हैं ।  जिसे उसने फाइनल ओपिनियन पोल नाम दिया है । ओपिनियन पोल की माने तो  राज्य में एक बार फिर से ममता बनर्जी हैट्रिक बनाने जा रही हैं ।

टीएमसी को मिल सकती हैं, 152 से 168 सीटें

एबीपी न्यूज-सी वोटर के ‘फाइनल’ ओपिनियन पोल में तृणमूल कांग्रेस यानि ममता बेनर्जी की पार्टी टीएमसी को बंगाल में बहुमत का आंकड़ा आसानी से मिल जाएगा ।  294 विधानसभा सीटों वाले पश्चिम बंगाल में बहुमत का आंकड़ा 148  है । और अगर ओपिनियन पोल की मनें तो टीएमसी को इस बार 152-168 सीटें मिलने का अनुमान है । इस लिहाज से आसानी से ममता बनर्जी एक बार फिर से सत्ता की कुर्सी पर काबिज हो सकती हैं ।

रहने के लिए घऱ भी नहीं पर इस महिला को मिला देश की सबसे बड़ी पार्टी से टिकट – खबर भी पढ़ें

ताकत झोंकने के बावजूद भाजपा सत्ता से दूर

इधर बीजेपी बंगाल में  100 का आंकड़ा ही पार करती हुई दिखाई दे रही है। सर्वे में बीजेपी को 104-120 सीटें जीतने का अनुमान जताया गया है । यानि पश्चिम बंगाल की सत्ता फिलहाल भाजपा के लिए काफी दूर दिखाई दे रही है ।

कांग्रेस-लेफ्ट बदहाल

उधर, कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन चुनाव में कहीं नजर नहीं आ रहे हैं, इस पोल की मानें तो यहां दोनों के गठबंधन को 18-26 सीटें ही मिलेंगी । जबकि अन्य को 0-2 सीटें मिल सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button