बिलासपुर : तखतपुर पूर्व विधायक के पुत्र ने कान्स्टेबल से की मारपीट, अधिकारी की बिलासपुर : तखतपुर पूर्व विधायक के पुत्र ने कान्स्टेबल से की मारपीट, अधिकारी की फाड़ी वर्दीफाड़ी वर्दी

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के तखतपुर में पेट्रोलिंग के दौरान पुलिस आरक्षक के गुप्तांग में लात मारने वाले और एसआई की वर्दी को फाडऩे वाले सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सभी आरोपियों को पकडक़र कोर्ट में विभिन्न धाराओं के तहत खड़ा किया है। खबर लिखे जाने तक पुलिस सभी आरोपियों को कोर्ट की कार्रवाई में शामिल है।

जिला पुलिस कप्तान आरिफ शेख ने बताया कि कानून से कोई बड़ा हो ही नहीं सकता। कोई भी व्यक्ति वह आम या खास क्यों ना हो गलत काम करते पाए जाने पर सख्त कार्रवाई होगी।पुलिस हवाले से मिली जानकारी के अनुसार भाजपा के पूर्व विधायक चोवादास खाण्डेकर के दोनों लडक़े निक्की खाण्डेकर और तरूण खाण्डेकर ( पूर्व जनपद अध्यक्ष मुंगेली) को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

दोनों पर बुधवार की रात पुलिस आरक्षक और इंस्पेक्टर से मारपीट का आरोप है। तरूण खाण्डेकर मुंगेली का पूर्व जनपद अध्यक्ष रह चुका है।आरक्षक की गुप्तांग में लात मारा जानकारी के अनुसार तखतपुर पुलिस की पेट्रोलिंग पार्टी बुधवार की रात पेट्रोलिंग करने निकली। इसी दौरान चौक में पन्द्रह सोलह लोग खड़े थे। पेट्रोलिंग गाड़ी से निकलकर आरक्षक डहरिया ने सभी को चौक में खड़े नहीं रहने को कहा।

आरक्षक डहरिया ने सभी लोग से निवेदन किया कि अपने घर जाएं। शराब के नशे में मस्त पूर्व बीजेपी विधायक और राज्य सरकार के मंत्री पुन्नूलाल मोहले के साले चोवादास खाण्डेकर के दोनों लड़के पुलिस से गाली गलौच करने लगे।इस बीच भीड़ से निकलकर तरूण खाण्डेकर ने आरक्षक के गुप्तांग में जोर से लात मारा। चोट इतनी ज्यादा लगी कि आरक्षक मौके पर ही बेहोश हो गया।

इसके बाद निक्की खाण्डेकर और उसके साथियों ने आरक्षक पर लात घुंसो की बरसात कर दी। निक्की और तरूण खाण्डेकर पेट्रोलिंग जीप में बैठे एसआई को कालर पकडक़र बाहर खींचा। मोबाइल भी छीन लिया। झूमा झटकी के दौरान एसआई की वर्दी भी फट गयी। तरूण,निक्की के अलावा सभी लोगों ने आरक्षक को पीटा। इसके अलावा एक अन्य जवान को इतना पीटा की उसकी हालत गंभीर हो गयी। जिसे अस्पताल में भर्ती करना पड़ा।

फोन छीनकर एसडीओपी से बातचीत तरूण खाणडेकर ने घायल एसआई से मोबाइल छीनकर एसडीओपी कोटा को लगाया। उसने बताया कि वह किसका लडक़ा और किसी मंत्री का रिश्तेदार है। यदि काम करना है तो संभल के करें। इस दौरान तरूण खाण्डेकर ने कहा कि यदि किसी पर कार्रवाई हुई तो उसका अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें।

थाना प्रभारी और एसडीओपी से एसपी को खबर मामले की जानकारी एसडीओपी और थाना प्रभारी ने पुलिस कप्तान आरिफ शेख को दी। आरिफ शेख ने तत्काल एक्शन लेते हुए तखतपुर थाना के लिए पुलिस बल भेजा। पुलिस कप्तान ने सबसे पहले ड्यूटी पर तैनात जवानों का एनालाइजर टेस्ट कराया। जवानों के शरीर में एक भी बूंंद शराब नहीं मिला।

इसके बाद आरिफ शेख ने तत्काल आरोपियों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया।घर में घुसकर गिरफ्तारी
पुलिस कप्तान के निर्देश के बाद तखतपुर पुलिस और बिलासपुर पुलिस ने मिलकर मुंगेली के पूर्व जनपद अध्यक्ष तरुण खांडेकर के घर धावा बोला।चोवादास खाण्डेकर के दोनो बेटों तरूण खाण्डेकर और निक्की खाण्डेकर को पकडक़र थाने लाया।

आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। इसके बाद दोनों के साथ गिरफ्तार कई लोगों को कोर्ट में हाजिर किया गया है।विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज
जानकारी के अनुसार पुलिस जवानों से जानलेवा मारपीट करने के आरोप में पुलिस ने दोनों के साथ अन्य लोगों के खिलाफ कई संगीन धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपियों पर आईपीसी की धारा 186,307,332,34,353,392 के तहत अपराध किया गया है।

कौन है निक्की और तरूण खाण्डेकर तरूण खाण्डेकर और उसका छोटा भाई निक्की खाणडेकर,बीजेपी के पूर्व विधायक चोवादास खाण्डेकर के लडक़े हैं। चोवादास खाण्डेकर छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री पुन्नूलाल मोहले का साला है। तरूण खाण्डेकर मुंगेली का पूर्व जनपद अध्यक्ष रह चुका है। उसकी पत्नी प्रतिमा खांडेकर वर्तमान में जनपद अध्यक्ष हैं।
कानून से ऊपर कोई नहींज्जानलेवा हमला हुआ

पुलिस कप्तान आरिफ शेख ने कहा कि जवान और अधिकारी पर ड्यूटी के दौरान जान लेवा हमला हुआ। आरक्षक के गुप्तांग में मारा गया। अधिकारी की वर्दी फाड़ी गयी। एसडीओपी को फोन पर धमकाया गया। मामला संगीन है। कानून के अनुसार गिरफ्तारी हुई है। कानून के तहत कार्रवाई होगी। कानून सबके लिए बराबर है। अपराध करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा। मैने कार्रवाई के पहले जवानों का टेस्ट कराया। शराब नहीं मिला है। पुख्ता होने के बाद कानून सम्मत कार्रवाई की गयी है। मामला कोर्ट तक पहुंंच चुका है।

रायपुर : विधायक विमल चोपड़ा पर पुलिस लाठीचार्ज का मामला उठा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *