मुख्यमंत्री चौहान ने मीडिया से की चर्चा

रायसेन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। प्रदेश में कल 81 हजार टेस्ट हुए थे, जिनमें केवल 718 पॉजीटिव प्रकरण आए हैं। पॉजिटिविटी रेट अब घटकर 0.8 प्रतिशत हो गया है। प्रदेश के पाँच जिले ऐसे हैं, जिनमें कल कोरोना का एक भी प्रकरण नहीं आया।

हमें आशा है कि प्रदेश के कई जिले अगले कुछ दिनों में पूरी तरह कोरोना मुक्त हो जायेंगे। मुख्यमंत्री चौहान स्मार्ट सिटी पार्क में वृक्षारोपण के उपरांत मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अभी इंदौर, भोपाल और जबलपुर में कोरोना के प्रकरणों की कुछसंख्या हैं, अभी लगातार सावधानी रखी जा रही है।

अगर पाँच प्रतिशत से कम पॉजिटिविटी दर होती है तो कोरोना संक्रमण नियंत्रण में माना जाता है। हम 0.8 प्रतिशत पॉजिटिविटी रेट पर पहुँच चुके हैं।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अभी भी जनता का सहयोग आवश्यक है। ग्राम, वार्ड, नगर और जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियाँ अनलॉक की प्रक्रिया में पूरी सतर्कता बरत रही हैं।

हमें कोविड अनुकूल व्यवहार अर्थात मास्क लगाना, दूरी बनाए रखना, बार-बार हाथ साफ करना आदि को अपनी आदत में शामिल करना होगा। दुकानदारों को भी दूरी बनाये रखने, दुकानों पर भीड़ नहीं लगने देने जैसी सावधानियों को अपनाना होगा।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन 75 हजार से 80 हजार तक टेस्ट कराए जायेंगे।

हमारी कोशिश यह है कि किसी भी हिस्से में यदि संक्रमित व्यक्ति मिले तो उसकी पहचान तत्काल कर ली जाये। उन्हें अवश्यकतानुसार होम आयसोलेट कर अथवा कोविड केयर सेंटर में ले जाकर जरूरी इलाज आरंभ किया जाये। इसके साथ ही कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग की प्रक्रिया भी जारी रहेगी।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में किल-कोरोना अभियान जारी रहेगा, इससे सर्दी, जुकाम, बुखार के प्रकरणों में तत्काल इलाज आरंभ किया जा सकेगा।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारी कोशिश यह है कि पूरी सावधानी रखी जाये, जिससे रोजगार और व्यापार भी चले और कोरोना संक्रमण भी नियंत्रण में रहे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि प्रदेश की जनता का सहयोग लगातार मिलता रहेगा। प्रदेशवासियों के संयम और सहयोग का मैं आभारी हूँ। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 15 जून तक कोरोना कर्फ्यू लागू रहेगा, इसमें आवश्यकतानुसार छूट दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button